DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

भाइयों व बाप पर हत्या के बाद लाश जलाने का आरोप

मुआवजा राशि के बंटवारे को लेकर हुए विवाद में भाइयों ने मिलकर बड़े भाई की गोली मार हत्या कर दी। पिता को भी इसमें शामिल माना जा रहा है। सभी ने मिलकर शव का अंतिम संस्कार भी कर दिया। सूचना मिलने पर मौके पर पहुंची बिसरख कोतवाली पुलिस ने दोनों भाइयों व बाप को गिरफ्तार कर लिया है। पुलिस ने शव के अवशेष कब्जे में ले लिए हैं।


घटना बिसरख कोतवाली क्षेत्र के खेड़ा चौगानपुर गांव की है। डीएसपी (प्रथम) के अनुसार खेड़ा चौगानपुर गांव निवासी किरनपाल को जमीन अधिग्रहण के बदले में करीब दो करोड़ मुआवजा मिला था। उसके तीन बेटे विनित उर्फ टीटू, अमित उर्फ लंगड़ा व संजय है। आरोप है कि विनित मुआवजे के पैसों को शराब व गाड़ी के पेट्रोल में उड़ा रहा था। उसका बाप व भाई शराब पीने व अनापशनाप खर्च करने से रोकते थे। मुआवजे के पैसों को बर्बाद होता देख बाप व भाइयों ने पैसे देना बंद कर दिया था।

आरोप है कि विनित शराब के नशे में मुआवजे की रकम के बंटवारा के लिए तमंचा लेकर बाप व भाइयों के पास जा पहुंचा। गोली मारने के लिए तमंचा तान लिया। तीनों ने विनित से तमंचा छीन लिया और इनमें से एक ने उसकी गोली मारकर हत्या कर दी। फिर तीनों ने मिलकर शव का आननफानन में अंतिम संस्कार भी कर दिया। ग्रामीणों ने घटना की सूचना बिसरख पुलिस को दी। सूचना मिलने पर डीएसपी शैलेन्द्र लाल फोर्स के साथ खेड़ा चौगानपुर गांव पंहुचे और मृतक के बाप किरनपाल, भाई संजय व अमित को गिरफ्तार कर लिया है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:हत्या के बाद लाश जलाने का आरोप