अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

चरित्र पर सवाल उठाने के चलते कूदी थी छात्राः पुलिस

चरित्र पर सवाल उठाने के चलते कूदी थी छात्राः पुलिस

अपने चरित्र पर कथित लांछन लगाए जाने के कारण 19 वर्षीय नर्सिंग छात्रा की आत्महत्या की कोशिश के मामले में एक निजी मेडिकल कॉलेज के अध्यक्ष और महिला प्राचार्य के खिलाफ आपराधिक प्रकरण दर्ज किया गया है।

पुलिस सूत्रों ने बताया कि शहर के श्री अरबिंदो इंस्टीट्यूट ऑफ मेडिकल साइंसेस (एसएआईएमएस: से सम्बदध कॉलेज ऑफ नर्सिंग की छात्रा दीपिका पंवार ने पांच अगस्त को महाविद्यालय भवन की पांचवीं मंजिल से पांच अगस्त को छलांग लगा दी। उसे गंभीर हालत में अस्पताल में भर्ती कराया गया।

सूत्रों के मुताबिक होश में आने पर छात्रा ने पुलिस को बताया कि नर्सिंग कॉलेज प्रशासन ने महाविद्यालय से उसकी हालिया अनुपस्थिति के बारे में पूछताछ करते हुए उसके चरित्र पर लांछन लगाया, जिसे वह बर्दाश्त नहीं कर सकी और जान देने के लिए मेडिकल कॉलेज बिल्डिंग से कूद गई।

पुलिस ने छात्रा के बयान और शिकायत के आधार पर एसएआईएमएस के अध्यक्ष डॉ. विनोद भंडारी और नर्सिंग कॉलेज की प्राचार्य मीनाक्षी मसीह के खिलाफ भारतीय दंड विधान की धारा 294, 323 और 506 के तहत मामला दर्ज किया। ये धाराएं गाली-गलौज, मारपीट और धमकी देने से जुड़ी हैं। सूत्रों के मुताबिक दीपिका के खिलाफ भी आत्महत्या की कोशिश का प्रकरण दर्ज किया गया है।

दीपिका की आत्महत्या की कोशिश के बाद नर्सिंग कॉलेज की आक्रोशित छात्राओं ने भारी हंगामा करते हुए आरोप लगाया कि महाविद्यालय की प्राचार्य मीनाक्षी बेहूदा बातें करके उन्हें मानसिक तौर पर प्रताड़ित करती हैं।
इसके बाद मेडिकल कॉलेज प्रबंधन ने मीनाक्षी को प्राचार्य पद से तत्काल प्रभाव के साथ निलंबित कर दिया और पूरे मामले की जांच के आदेश दिए।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:चरित्र पर सवाल उठाने के चलते कूदी थी छात्राः पुलिस