अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

प्रिडेटर्स

प्रिडेटर्स

कहानी

कुछ अजीब सी परिस्थितियों में एक अमेरिकी सैनिक रॉयस (एड्रियन ब्रॉडी) खुद को एक अन्जान खौफनाक से जंगल में पाता है। यहां उसकी मुलाकात इजाबेल (एलिस ब्रागा), एडविन (टॉफर ग्रेस), निकोलाई (ऑलेग टॉक्ट्रोव), स्टॉन्स (वॉल्टन गोगिन्स) आदि करीब छह लोगों से होती है। इनमें से कोई डॉक्टर है तो कोई जेल का कैदी। एक माफिया डॉन है तो दूसरा ड्रग्ज का व्यापारी। कोई नहीं जानता कि उन्हें यहां कौन और किस मकसद से लाया है। तभी खूंखार भेड़ियों का एक झुंड इन सभी पर हमला बोल देता है, जिसमें कुचीलो नामक एक व्यक्ति की मौत हो जाती है। इन लोगों को एहसास होता है कि जंगल में कोई अदृश्य चीज है, जो बारी-बारी से उनका शिकार कर रही है। जंगल में कुछ प्रिडेटर्स (एलियंस) वाकई इन लोगों का शिकार कर रहे होते हैं। प्रिडेटर्स से बचते-बचाते इन लोगों की मुलाकात नोलैंड (लारेंस) से होती है, जो इस जंगल में कई सालों से भटक रहा है। नोलैंड इन लोगों को प्रिडेटर्स के बारे में और जानकारी देता है और प्रिडेटर्स के एक विमान का सुराग भी देता है।  

निर्देशन

‘प्रिडेटर्स’ का नाम सुनकर सबसे पहले जेहन में ऑरनोल्ड श्वाजर्नेगर की छवि उभरती है,  निमरॉड ने फिल्म को एड्रियन से ढकने की पूरी कोशिश की है। यही वजह है कि उन्होंने भयानक जंगल, अदृश्य प्रिडेटर्स और खौफनाक जंग के अलावा कुछ भी 1987 में बनी ‘प्रिडेटर’ से नहीं लिया है। यही बात इस ‘प्रिडेटर्स’ को ऑरनोल्ड वाली ‘प्रिडेटर’ से अलग बनाती है। नई तकनीक का इस्तेमाल करते हुए निर्देशक ने प्रिडेटर्स में तो कोई बड़ा बदलाव नहीं किया है, लेकिन लीड हीरो के साथ चार-पांच किरदार जोड़ दिये हैं, जो हीरो के माफिक ही दम-खम रखते हैं, जो इस फिल्म में बांधे रखता है।

अभिनय

एक सैनिक का तेवर एड्रियन ब्रॉडी पर फबता है, लेकिन उन्होंने अपने सिक्स पैक्स और वी शेप फिजीक दिखाने में काफी देर कर दी। बाकी कलाकारों ने अभिनय से ज्यादा अच्छा स्टंट किया है, जो फिल्म की जान है।

क्या है खास

जंगल का खौफ, अदृश्य प्रिडेटर्स से भिड़ंत, समुराई युद्ध और स्पेशल इफेक्ट्स।

क्या है बकवास

ये समझना सिर से परे है कि आखिर क्यों एक प्रिडेटर को पेड़ से बांधकर रखा गया था।

पंचलाइन

तेईस साल बाद एक नहीं कई प्रिडेटर्स फिर से आ गये हैं, जिनका सामना दिलचस्प किरदारों से है। अच्छी टाइमपास फिल्म।

सितारे : एड्रियन ब्रॉडी, लारेंस फिशबर्न, टॉफर ग्रेस, एलिस ब्रागा, डैनी ट्रेजो, वाल्टन गॉगिन्स

निर्माता/बैनर : रॉबर्ट रॉड्रिग्ज, जॉन डेविस, एलिजाबेथ एवलन/ 20 सेंचुरी फॉक्स

निर्देशक : निमरॉड एंटल

संगीत : जॉन डेब्ने और ऐलन सिल्वेस्ट्री

तन्वी, छात्र, मॉडल टाउन: कई सीन्स तो हैरतअंगेज हैं। एक्शन बढ़िया है। मजा आ गया।

मुकेश, व्यवसायी, त्रिनगर: लोकेशन और साउंड इफेक्ट्स काफी बढ़िया हैं। मजा आ गया।

हर्ष, छात्र, नॉर्थ दिल्ली: मूवी में स्टंट काफी बढ़िया हैं। सभी कलाकारों की एक्टिंग भी काफी अच्छी है।

वंदिनी, छात्र: कई सीन्स तो डरा देने वाले हैं। फिल्म का सस्पेंस भी काफी लाजवाब है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:प्रिडेटर्स