DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

दूसरी बार शतक और शून्य बनाकर आउट हुए वीरू

दूसरी बार शतक और शून्य बनाकर आउट हुए वीरू

विस्फोटक बल्लेबाज वीरेन्द्र सहवाग अपने करियर में दूसरी बार एक टेस्ट में शतक और शून्य बनाकर आउट हुए हैं। सहवाग श्रीलंका के खिलाफ तीसरे एवं अंतिम क्रिकेट टेस्ट के चौथे दिन शुक्रवार को दूसरी पारी में शून्य पर आउट हो गए जबकि पहली पारी में उन्होंने 109 रन बनाए थे।

भारत के क्रिकेट इतिहास में वीनू मांकड़ पहले ऐसे खिलाड़ी थे जो एक टेस्ट में शतक और शून्य बनाकर आउट हुए थे। उन्होंने फरवरी 1948 में मेलबोर्न में आस्ट्रेलिया के खिलाफ पहली पारी में 111 और दूसरी पारी में शून्य बनाकर यह अनचाहा रिकार्ड अपने नाम किया था।

मांकड़ के बाद 12 और भारतीय खिलाड़ियों ने टेस्ट मैचों में यह कारनामा किया। विजय मांजरेकर, सचिन तेंदुलकर और सहवाग तो दो-दो बार एक टेस्ट में शतक और शून्य बनाकर आउट हो चुके हैं। सहवाग ने इससे पहले अगस्त, 2002 में नाटिंघम में इंग्लैंड के खिलाफ पहली पारी में 106 और दूसरी पारी में शून्य बनाया था।

एक टेस्ट में शतक और शून्य बनाने वाले भारतीय बल्लेबाजों में मांकड़, पंकज राय, विजय मांजरेकर (दो बार), माधवराव आप्टे, गुंडप्पा विश्वनाथ, सुनील गावस्कर, दिलीप वेंगसरकर, नवजोत सिंह सिद्धू, मोहम्मद अजहरुद्दीन, नयन मोंगिया, सचिन तेंदुलकर (दो बार), सहवाग (दो बार) और राहुल द्रविड़ शामिल हैं।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:दूसरी बार शतक और शून्य बनाकर आउट हुए वीरू