DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

सौ वर्षों में कश्मीर की सबसे बड़ी आपदा: आजाद

सौ वर्षों में कश्मीर की सबसे बड़ी आपदा: आजाद

केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री और जम्मू एवं कश्मीर के पूर्व मुख्यमंत्री गुलाम नबी आजाद ने शुक्रवार को कहा कि लेह में बादल फटने से आई बाढ़ में मरने वालों की सही संख्या का पता नहीं चल पाया है। कस्बे में संचार के सभी साधन ठप्प हो गए हैं।

आजाद ने संसद भवन के बाहर संवाददाताओं से कहा कि हम लद्दाख से एक मंत्री (नुवांग रिगजिन जोरा) से संपर्क करने का प्रयास कर रहे हैं, लेकिन उनसे संपर्क नहीं हो पा रहा है। क्योंकि क्षेत्र से संपर्क के सभी साधन नष्ट हो गए हैं।

हमें मरने वालों की वास्तविक संख्या का भी पता नहीं है। मेरे हिसाब से 35, लेकिन मीडिया के अनुसार 50 लोग मरे हैं। यह सभी अनुमान हैं, किसी भी आंकड़े की पुष्टि नहीं हुई है। उन्होंने कहा कि शाम तक संचार के साधनों को ठीक कर लिया जाएगा और केवल उसके बाद ही वास्तविक स्थिति का पता चल सकेगा। आजाद ने कहा कि सौ वर्षो में जम्मू एवं कश्मीर आई यह सबसे बड़ी आपदा है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:सौ वर्षों में कश्मीर की सबसे बड़ी आपदा: आजाद