अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

कैग ने की बीएसएनएल व एमटीएनएल की खिंचाई

कैग ने की बीएसएनएल व एमटीएनएल की खिंचाई

नियंत्रक एवं महालेखा परीक्षक (कैग) ने वर्ष 2006-07 के लिए वास्तविक जरूरत से अधिक कर भुगतान के लिए बीएसएनएल की खिंचाई की है। इससे सार्वजनिक क्षेत्र की कंपनी को ब्याज आय के रूप में 23.21 करोड़ रुपए का नुकसान हुआ।

कैग ने कहा कि बीएसएनएल ने 2009-10 में 1823 करोड़ रुपए का घाटा उठाया, लेकिन कंपनी ने 995 करोड़ रुपए के वास्तविक कर भुगतान के बजाय अग्रिम कर के रूप में 529 करोड़ रुपए अधिक भुगतान किया, जिससे उसे ब्याज का नुकसान हुआ।

वित्त वर्ष 2004-05 से 2006-07 के लिए बीएसएनएल के आयकर रिटर्न की जांच से पता चला है कि कंपनी ने लगातार तीन साल तक अत्यधिक अग्रिम कर का भुगतान किया। यह समुचित योजना और पर्याप्त वित्तीय नियंत्रण के अभाव का संकेत है।

कैग ने सार्वजनिक क्षेत्र की एक और दूरसंचार कंपनी एमटीएनएल की भी उसकी वैश्विक निविदा मामले में अनियमितता को लेकर खिंचाई की है। रिपोर्ट में कहा गया है कि कंपनी उक्त निविदा में प्रधानमंत्री कार्यालय द्वारा स्वेदशी निर्मित दूरसंचार उपकरणों को बढ़ावा देने की नीति को अमल में लाने में विफल रही। पुन: कंपनी ने निविदा की शर्तों के विपरीत खराब प्रदर्शन के लिए जुर्माने के प्रावधान को हटाकर चुनिंदा कंपनियों को 16. 18 करोड़ रुपए का अनुचित लाभ दिया।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:कैग ने की बीएसएनएल व एमटीएनएल की खिंचाई