DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

व्यापार वार्ता पर चीन-रूस के मुकाबले भारत ज्यादा खुला: किर्क

अमेरिका ने कहा है कि द्विपक्षीय व्यापार वार्ताओं में ब्राजील, चीन और रूस की तुलना में भारत का रुख ज्यादा खुला है।  हालांकि, अमेरिका का मानना है कि इन देशों को दोहा दौर की वार्ताओं को सफल बनाने के मामले में वैश्विक स्तर पर और ज्यादा प्रयास करने चाहिए।

अमेरिकी संसद की एक समिति के समक्ष सुनवाई के दौरान एक सवाल के जवाब में अमेरिकी व्यापार प्रतिनिधि रॉन किर्क ने कहा कि हमारी भारत, चीन, ब्राजील और रूस सहित सभी भागीदारों के साथ कई बार द्विपक्षीय बातचीत हुई। इसमें कम से कम बातचीत को लेकर भारत का रुख सबसे अधिक खुला है।

दोहा दौर की वार्ता के मुद्दे पर किर्क ने कहा हमने उन्हें यह समझाने का प्रयास किया है कि इन द्विपक्षीय चर्चाओं के बाद जेनेवा में उन्हें बातचीत को आगे बढ़ाना है। उन्होंने कहा हम रूस, ब्राजील, भारत और चीन को अपने साथ लेने का प्रयास कर रहे हैं और इस मामले में, मुझे नहीं मालूम कि कितनी प्रगति हुई है।

किर्क ने कहा हालांकि अमेरिका दोहा वार्ताओं को लेकर वचनबद्ध है, लेकिन इसकी सफलता उभरते बाजारों को साथ लेकर होगी, भारत, चीन और ब्राजील को वैश्विक अर्थव्यवस्था में अपनी स्थिति के अनुरूप भागीदारी निभानी चाहिए।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:व्यापार वार्ता पर चीन-रूस के मुकाबले भारत ज्यादा खुला: किर्क