DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

बिना इजाजत बिजली निगम ने काटी पीपल की टहनियां

बिजली निगम ने नीलम बाटा रोड पर लगे पीपल के पेड़ की टहनियां बुधवार को गैरकानूनी तरह से काट डाली। इस पेड़ की टहनी तक काटने की इजाज सरकार नहीं देती। यही नहीं निगम ने ग्रीन बेल्ट पर लगे कई पेड़ों की टहनियों को भी नहीं बख्शा। नगर निगम की जमीन पर लगे इन पेड़ो की टहनियां काटने का मामला निगम अधिकारियों संज्ञान में आया है। लेकिन कोई कार्रवाई नहीं की गई है।


पीपल के पेड़ सहित करीब छह पेड़ों की टहनियों की बिजली निगम ने काटा है। वन विभाग के नियमों के मुताबिक पेड़ किसी की जमीन पर लगा हो। उसे काटने के लिए वन विभाग से अनुमति लेना जरूरी होता है। पीपल के पेड़ को संरक्षित करने के लिए भारतीय दंड सहिता में नियमावली है। इसके तहत इसकी टहनी तक भी नहीं काटी जा सकती। वन विभाग की मानें तो ऐसा करके बिजली निगम ने गैरकानूनी काम किया है। विभागीय अधिकारियों का कहना है कि पेड़ो की टहनी बिना इजाजत काटने पर कार्रवाई होती है। लेकिन नगर निगम की जमीन से पेड़ कटे हैं। इसलिए उनकी शिकायत पर ही कार्रवाई संभव है। नगर के बागवानी कार्यकारी अभियंता सुरेंद्र पुनिया का कहना है कि उनके पास पेड़ों की टहनी काटे जाने की सूचना है। बिजली निगम ने इन पेड़ों की टहनियां कटवाई है। जनसाधारण की सुविधा के लिए बिजली निगम ने ऐसा किया है। इसलिए निगम कोई कार्र नहीं करेगा।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:बिना इजाजत बिजली निगम ने काटी पीपल की टहनियां