अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

अगले साल से सिविल सेवा की प्रारंभिक परीक्षा में बदलाव

सरकार संघ लोक सेवा आयोग की सिविल सेवा की प्रारंभिक परीक्षा पद्धति में परिवर्तन पर विचार कर रही है। लोकसभा में एक प्रश्न के लिखित उत्तर में यह जानकार दी गई।

लोकसभा में आधि शंकर, वरुण गांधी, विलास मुत्तेमवार, अर्जुन राम मेघवाल के प्रश्न के लिखित उत्तर में विज्ञान एवं प्रौद्योगिकी मंत्री पृथ्वीराज चव्हाण ने बताया कि सरकार ने सिविल सेवा [प्रारंभिक] परीक्षा के स्थान पर सिविल सेवा अभिरुचि परीक्षण [सीएसएटी] की शुरुआत करने संबंधी प्रस्ताव रखा है।

चव्हाण ने यह भी बताया कि सिविल सेवा परीक्षा, 2011 में सीएसएटी के लागू होने की संभावना है। उन्होंने कहा कि इससे सिविल सेवाओं के लिए उचित अभिरुचि वाले अभ्यर्थियों की परख की जा सकेगी।

चव्हाण के अनुसार पहले अभ्यर्थी 23 ऐच्छिक विषयों में से एक विषय चुनते थे, लेकिन अब इसके स्थान पर सीएसएटी में एक सामान्य अभिरुचि पर समान प्रश्नपत्र लाने पर विचार किया जा रहा है। इसका पाठयक्रम यूपीएससी द्वारा तैयार किया जा रहा है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:अगले साल से सिविल सेवा की प्रारंभिक परीक्षा में बदलाव