अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

दो टूक (04 अगस्त, 2010)

कल्पना कीजिए, विवाह के लिए दुल्हन सजे और जब वह तैयार हो तब तक बारात वापस जा चुकी हो। कैसा माहौल होगा? राष्ट्रमंडल खेलों के लिए कनॉट प्लेस का नजारा कुछ ऐसा ही रहेगा।

खेल तो इसी साल अक्टूबर में होने हैं। लेकिन इस खेल के लिए सजायी- संवारी जा रही यह दुल्हन तैयार ही होगी अगले साल दिसंबर में। आखिर, अरबों रुपये फूंक सरकार ने कैसी योजना बनाई थी।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:दो टूक (04 अगस्त, 2010)