अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

वंजारा की अपील का सीबीआई ने किया विरोध

वंजारा की अपील का सीबीआई ने किया विरोध

सीबीआई ने सोहराबुद्दीन शेख फर्जी मुठभेड़ मामले के आरोपी पूर्व पुलिस उप महानिरीक्षक डी़ जी़ वंजारा और सात अन्य अधिकारियों की उस अर्जी का विरोध किया है जिसमें एक अन्य आरोपी एन क़े अमीन के मामले में वादामाफ गवाह बन जाने पर आपत्ति उठाई गई है।

अतिरिक्त मुख्य न्यायिक मजिस्ट्रेट ए़ वाई दवे की अदालत में दाखिल जवाब में सीबीआई ने कहा कि अमीन के वादामाफ गवाह बन जाने पर आपत्ति उठाते हुए आठ आरोपियों की अर्जी में कोई दम नहीं है और वह खारिज कर दिये जाने की ही हकदार है।

जांच एजेंसी ने कहा कि अगर अदालत अमीन की अर्जी को स्वीकार करती है तो आपराधिक दंड प्रक्रिया संहिता के प्रावधानों के मुताबिक आगे की कार्रवाई की जाएगी।

अमीन ने पिछले सप्ताह अदालत में अर्जी दाखिल कर वादामाफ गवाह बनना चाहा था और अदालत से मांग की थी कि मामले में उसे माफी दी जाये।

सीबीआई के वकील एजाज खान ने अदालत में दलील दी कि माफी देने की अमीन की अर्जी पर विचार करने से पहले आपराधिक दंड प्रक्रिया संहिता की धारा 164.2 के तहत उनका इकबालिया बयान दर्ज करने की जरूरत है। बयान के सत्यापन के बाद ही सीबीआई वादामाफ गवाह बनने की पेशकश करती उनकी अर्जी पर विचार कर सकती है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:वंजारा की अपील का सीबीआई ने किया विरोध