DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

एक दिन में सबसे ज्यादा हवाई सफर दिल्ली से

सरकार ने मंगलवार को कहा कि ए-1 श्रेणी के शहरों में प्रतिदिन दिल्ली से सबसे ज्यादा लोग हवाई यात्रा करते हैं और इस मामले में ए श्रेणी के शहरों में अहमदाबाद शीर्ष पर है। नागर विमानन राज्य मंत्री प्रफुल्ल पटेल ने कणिमोक्षी के सवाल के लिखित जवाब में राज्यसभा को बताया कि वर्ष 2009-10 में ए-1 श्रेणी के शहरों में दिल्ली से प्रतिदिन औसतन 71,575 यात्रियों ने हवाई यात्रा की।

उन्होंने कहा कि इसी तरह मुंबई, कोलकाता, चेन्नई, बेंगलूर और हैदराबाद से प्रतिदिन औसतन क्रमश: 70,155 , 28,553 , 27,245 , 22,043 और 17,844 लोगों ने हवाई यात्रा की। पटेल ने कहा कि ए श्रेणी के शहरों में वर्ष 2009-10 में अहमदाबाद से सबसे ज्यादा, प्रतिदिन औसतन 9,660 लोगों ने हवाई यात्रा की। अहमदाबाद के बाद पुणे, सूरत, कानपुर और कोयबंतूर से प्रतिदिन औसतन क्रमश: 6,168 , 88 , 15 और 3,039 यात्रियों ने हवाई यात्रा की।

उन्होंने परिमल नाथवानी के सवाल के लिखित जवाब में उच्च सदन को बताया कि उड़ानों के परिचालन की दृष्टि से देश के 11 हवाई अड्डों के जटिल होने की पहचान की गई है। पटेल ने कहा कि इन हवाई अड्डों पर निरीक्षण नागरिक उड्डयन महानिदेशालय के अधिकारियों का दल करता है और रिपोर्ट संबंधित ऑपरेटर के पास भेज दी जाती है। इन हवाई अड्डों पर सुरक्षा की दृष्टि से कई कदम उठाए गए हैं।

पटेल ने राजकुमार धूत के सवाल के लिखित जवाब में बताया कि नागर विमानन सुरक्षा ब्यूरो के सुरक्षा आयुक्त का पद गत 31 जनवरी से रिक्त है। इस पद पर पदस्थ अधिकारी की सेवानिवृत्ति के पहले अगस्त 2009 से ही भर्ती प्रक्रिया शुरू की गई थी। लेकिन प्रक्रिया संबंधी विलंब के चलते किसी नियमित अधिकारी की नियुक्ति नहीं हो पाई। पटेल ने कहा कि नियमित अधिकारी की नियुक्ति होने तक नागरिक उड्डयन मंत्रालय के संयुक्त सचिव को नागर विमानन सुरक्षा ब्यूरो के सुरक्षा आयुक्त का अतिरिक्त पदभार दिया गया है। उन्होंने कहा कि अतिरिक्त सुरक्षा आयुक्त के दो रिक्त पदों पर भी भर्ती प्रक्रिया चल रही है।

पटेल ने बी एस ज्ञानादीशिखन के सवाल के लिखित जवाब में उच्च सदन को बताया कि अमेरिका के संघीय उड्डयन प्रशासन ने यह सूचित किया है कि भारत अंतरराष्ट्रीय उड्डयन सुरक्षा आकलन की श्रेणी-। में कायम है। भारत को एशियाई उड्डयन जगत में अन्य देशों के लिए आदर्श बनाए जाने पर भी विचार किया जा रहा है।

उन्होंने कहा कि अमेरिका के संघीय उड्डयन प्रशासन ने भारत में योग्य तकनीकी कर्मियों की उपलब्धता के संबंध में अपनी चिंता व्यक्त की है। इसके बाद सरकार ने मई 2009 में 427 अतिरिक्त तकनीकी पद और 129 गैर-तकनीकी पद के सृजन को मंजूरी दे दी। पटेल ने संजय राउत के सवाल के जवाब में राज्यसभा को बताया कि पूर्व में कुछ निजी विमानन कंपनियां इकोनॉमी श्रेणी के यात्रियों को जीवन रक्षक जैकेटों के स्थान पर फ्लोटिंग सीट कुशन मुहैया कराती थीं। बहरहाल, नियमों में संशोधन कर यह अनिवार्य किया गया है कि विमान में चढ़ने वाले हर यात्री को जीवन रक्षक जैकेट उपलब्ध कराई जाए।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:एक दिन में सबसे ज्यादा हवाई सफर दिल्ली से