अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

नक्सली बंद के दौरान बिहार में सुरक्षा के व्यापक प्रबंध

भारतीय कम्युनिस्ट पार्टी (माओवादी) के दो दिवसीय बंद के मद्देनजर राज्य भर में सुरक्षा के व्यापक प्रबंध किए गए हैं। रेल विभाग ने चार रेलगाडियों को रद्द करने के साथ ही कई रेलगाडियों के मार्ग में परिवर्तन किया है।

रेलवे ने बंद को देखते हुए नक्सल प्रभावित इलाकों में पुलिस जवानों को पटरी पर विशेष रूप से गश्त करने का निर्देश दिया है। कई सवारी रेलगाडियों को रद्द कर दिया गया है और कई के मार्ग में बदलाव किया गया है। रात में रेलगाडियों की गति को नियंत्रित रखने का फैसला किया गया है। 

पूर्व-मध्य रेलवे के मुख्य जन-संपर्क अधिकारी दिलीप कुमार ने मंगलवार को बताया कि 625 गोमो-बरकाकाना, 629 बरवाडीह-डिहरी, 738 डिहरी-बरवाडीह पैसेंजर रेलगाडिम्यों तथा 626 बरकाकाना-गोमो रेलगाड़ी को रद्द कर दिया गया है। दो एक्सप्रेस रेलगाडियों के मार्ग में परिवर्तन किया गया है।

राज्य के अपर पुलिस महानिदेशक पी.क़े ठाकुर ने बताया कि राज्य में बंद के दौरान अब तक कहीं से अप्रिय घटना की सूचना नहीं है। उन्होंने कहा कि बंद को लेकर सभी एहतियाती कदम उठाए गए हैं। संवेदनशील जिलों में अतिरिक्त सुरक्षा बलों को तैनात किया गया है।

बंद का बिहार में अब तक मिलाजुला प्रभाव देखा जा रहा है। राज्य के नक्सल प्रभावित जिलों औरंगाबाद, गया, जमुई, जहानाबाद, रोहतास, मुंगेर तथा अरवल जिलों के ग्रामीण क्षेत्रों में इस बंद का असर देखा जा रहा है। बंद का सबसे अधिक प्रभाव यातायात पर पड़ा है। नक्सलियों ने बिहार समेत पांच राज्यों में मंगलवार और बुधवार को बंद की घोषणा की है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:नक्सली बंद के दौरान बिहार में सुरक्षा के व्यापक प्रबंध