अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

कश्मीर में छह की मौत, सरकारी इमारतें निशाने पर

कश्मीर में छह की मौत, सरकारी इमारतें निशाने पर

कश्मीर घाटी में विरोध प्रदर्शन की ताजा घटनाओं में छह व्यक्तियों की मौत हो गई। पत्थर फेंक रहे, सरकारी इमारतों पर हमले कर रहे और पुलिस से हथियार छीन रहे प्रदर्शनकारियों को काबू में करने के लिए पुलिस को कई स्थानों पर गोली चलानी पड़ी।

प्रदर्शनकारियों ने सोमवार को दक्षिण कश्मीर में कई स्थानों पर कर्फ्यू का उल्लंघन किया और सड़कों पर निकलकर कई स्थानों पर सुरक्षाकर्मियों पर पत्थर फेंके। हिंसा पर उतारू प्रदर्शनकारियों ने घाटी में कई स्थानों पर पुलिस थानों और सीआरपीएफ के शिविरों को निशाना बनाया। घाटी में पिछले शुक्रवार से जारी हिंसक घटनाओं में 21 लोगों की मौत हो चुकी है।

कुलगाम जिले में उपद्रवियों ने एक थाने पर हमला किया और वहां आग लगाने की कोशिश की, जिसके बाद पुलिस को गोली चलानी पड़ी और एक व्यक्ति की मौत हो गई। इससे सटे अनंतनाग जिले के संगम इलाके में एक व्यक्ति उस समय मारा गया, जब सीआरपीएफ के जवानों ने उनके शिविर पर पत्थर फेंक रहे लोगों पर फायरिंग की। पुलिस का कहना है कि फायरिंग के बाद भगदड़ में एक अन्य व्यक्ति की मौत हो गई।

दक्षिण कश्मीर के पुलवामा जिले में काकापुरा में पुलिस ने पथराव और लूटपाट कर रहे प्रदर्शनकारियों पर फायरिंग की, जिससे एक व्यक्ति की मौत हो गई। उत्तरी कश्मीर के कुपवाड़ा जिले के करालपुरा में एक व्यक्ति उस समय मारा गया, जब थाने से हथियार लूटने वाली हिंसक भीड़ पर काबू पाने के लिए पुलिस को गोली चलानी पड़ी। प्रदर्शनकारी चार राइफलें लेकर भाग गए।

बटमालू जिले में सोमवार दोपहर हिंसा में घायल हुए एक लड़के ने आज शाम दम तोड़ दिया। पुलिस ने यह जानकारी दी।

प्रदर्शनकारियों ने आज पुलवामा जिले के राजपुरा में एक थाने की चार इमारतों को आग के हवाले कर दिया, जिससे 20 लोग घायल हो गए। पुलिस विभाग ने एक बयान में बताया कि हिंसा पर उतारू भीड़ ने काकापुरा, पुलवामा, बदगाम, अनंतनाग, कुलगाम और कुपवाड़ा में कई स्थानों पर कर्फ्यू का उल्लंघन किया और सार्वजनिक तथा पुलिस संपत्ति को नुकसान पहुंचाया।

इससे पूर्व दिन में प्रदर्शनकारियों ने मध्य बदमाग जिले में दो सरकारी कार्यालयों और एक रेलवे शेड में आग लगा दी। पुलिस ने हिंसा पर काबू पाने के प्रयास में गोली चलाई तो तीन लोग घायल हो गए। श्रीनगर के बाहरी इलाके में स्थित बेमिना में फायरिंग के दौरान तीन और लोग घायल हुए।

पुलिस सूत्रों ने बताया कि दक्षिण कश्मीर के बीजेहारा में तीन दिन पहले आंसू गैस का गोला लगने से घायल हुए तारिक अहमद ने कल रात दम तोड़ दिया। सूत्रों ने बताया कि सुरक्षा बल कानून और व्यवस्था बनाए रखने के लिए सभी दस जिलों में कड़ी चौकसी बरत रहे हैं।

 

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:कश्मीर में छह की मौत, सरकारी इमारतें निशाने पर