DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

प्रतिकूल प्रविष्टि के विरुद्ध याचिका खारिज

इलाहाबाद उच्च न्यायालय ने उप्र वित्त निगम कानपुर में सहायक प्रबंधक (तकनीकी) पद पर रहते हुए पत्नी के ऑपरेशन के खर्च का फर्जी बिल प्रस्तुत करने पर दी गई प्रतिकूल प्रविष्टि को सही करार दिया है। न्यायालय ने कहा कि याची को प्रविष्टि की सूचना दी गई थी। इसके बावजूद उसने समय से प्रत्यावेदन दाखिल नहीं किया। न्यायालय ने कहा कि इस कारण इस मामले में हस्तक्षेप करने का औचित्य नहीं है। यह आदेश न्यायमूर्ति सुनील अंबवानी एवं न्यायमूर्ति काशीनाथ पांडेय की खंडपीठ ने सहायक प्रबंधक (तकनीकी) सुखराम की याचिका खारिज करते हुए दिया है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:प्रतिकूल प्रविष्टि के विरुद्ध याचिका खारिज