अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

जमीन पर जबरन कब्जा कराने का आरोप

किसान की जमीन पर दूसरों को जबरन कब्जा कराने के एक मामले में सेक्टर 58 थाने में तैनात एक दरोगा समेत तीन लोगों के खिलाफ जिला जज ने मुकदमा दर्ज करने का आदेश दिया है। कोर्ट केआदेश के बाद भी अभी तक  के खिलाफ मामला दर्ज नहीं किया गया है। बताया जाता है कि यह जमीनी विवाद पिछले दो साल से कोर्ट में विचाराधीन है।


मिली जानकारी के अनुसार छिजारसी गांव निवासी दल्लूराम ने चोटपुर कालोनी में किसान से करीब 800 वर्गगज जमीन खरीदी थी। उनका आरोप है कि विजयनगर गाजियाबाद निवासी सत्ता पार्टी के नेता मांगे राम जाटव और नयाबांस सेक्टर 15 निवासी नेपाल सिंह उनकी जमीन पर जबरन कब्जा करना चाहते हैं। यह मामला करीब दो साल पुराना है और सिविल कोर्ट में विचाराधीन है। दल्लूराम का आरोप है कि कुछ दिन पहले सेक्टर 58 थानाक्षेत्र के मॉडल टाउन चौकी प्रभारी अरविंद कुमार उक्त नेताओं के साथ प्लाट पर पहुंचे और उस पर कब्जा कराने की कोशिश की। यही नहीं दरोगा ने उनसे पिंड छुड़ाने के लिए दो लाख रुपए की मांग की और कब्जा बरकरार रखने की बात कही।


पैसे न देने पर उनके परिवार और रिश्तेदारों को जेल भेजने की धमकी दी। पीड़ित ने जिला जज से न्याय की गुहार लगाई। जिला जज हेत सिंह यादव ने दरोगा अरविंद कुमार और नेता मांगेराम व नेपाल सिंह के खिलाफ मुकदमा दर्ज करने का आदेश दिया है। कोर्ट के आदेश के पांच दिन बाद भी अभी तक दरोगा और नेता के खिलाफ मामला दर्ज नहीं किया गया है। उधर आरोपी दरोगा ने दल्लूराम के आरोपों को सिरे से खारिज कर दिया और कहा कि दोनों पक्षों को आपसी जमीनी विवाद है जो कोर्ट में पहले से ही विचाराधीन है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:जमीन पर जबरन कब्जा कराने का आरोप