DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

पुलिस की थ्योरी नौकर रवि और शंकर पर टिकी

भाजपा के वरिष्ठ नेता हुकुम सिंह की पत्नी रेवती सिंह हत्याकांड में पुलिस की थ्योरी फिलहाल नौकरों पर आकर रुक गई है। उच्चपदस्थ सूत्रों ने दावा किया है कि हत्यकांड में परिवार के दो नौकरों ने अहम भूमिका अदा की। इसमें से एक का नाम रवि है, जबकि दूसरा शंकर बताया गया है। शंकर ने ही दरवाजे के बगल में बनी खिड़की से डंडे के सहारे दरवाजे की भीतर से बंद सिटकनी खोल दी थी। शंकर व रवि ने ही मिलकर उनकी हत्या की और अलमारी में रखे 2.5 लाख रुपये लूट लिए। फिलहाल, पुलिस के अफसर इस मसले पर अधिकारिक रूप से कुछ भी कहने को तैयार नहीं हैं।


जानकारी के मुताबिक, हुकुम सिंह के नौकर शंकर ने पुलिस को पूछताछ के दौरान हत्याकांड के बारे में अहम जानकारियां दी हैं। शंकर ने बताया है कि हत्या में कुछ दिन पहले निकाले गए नौकर रवि की अहम भूमिका है। रवि को गलत संगत होने के कारण नौकरी से निकाल दिया गया था। एसटीएफ को सर्विलांस के दौरान सुराग मिले हैं कि शंकर मोबाइल से लगातार रवि से संपर्क में था। रवि ने उसे हत्या और लूट के लिए राजी किया।
एसटीएफ सूत्रों के  मुताबिक, शंकर ने बताया है कि रेवती सिंह के कमरे के  बगल में बनी खिड़की से उसने मुख्य कमरे के दरवाजे की सिटकनी खोल दी थी। डंडे की मदद से इसे नीचे किया गया और रवि कमरे में घुस गया। शंकर की मदद से उसने अलमारी खोली और अटैची में रखे 2.5 लाख रुपये चोरी कर लिए। पुलिस अब अटैची पर मिली फिंगर प्रिंट के सहारे सुबूतों का मिलान करने में जुटी है, ताकि हकीकत सामने आ सके।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:पुलिस की थ्योरी नौकर रवि और शंकर पर टिकी