अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

मालिंगा को लेकर अब भी तस्वीर साफ नहीं: संगकारा

मालिंगा को लेकर अब भी तस्वीर साफ नहीं: संगकारा

श्रीलंका के कप्तान कुमार संगकारा ने सोमवार को कहा कि घुटने की चोट के कारण दूसरे टेस्ट से बाहर रहने वाले लेसिथ मालिंगा चोट से उबर गए हैं लेकिन उनका भारत के खिलाफ मंगलवार से शुरू होने वाले तीसरे और अंतिम टेस्ट मैच में खेलना अब भी सुनिश्चित नहीं है।

मालिंगा ने अभ्यास सत्र में अच्छी गेंदबाजी की लेकिन संगकारा ने कहा कि इस तेज गेंदबाज के चयन पर अंतिम फैसला करना मुश्किल होगा। संगकारा ने मैच की पूर्व संध्या पर कहा कि मालिंगा ने आज अच्छी गेंदबाजी की लेकिन हमें उनकी प्रगति पर ध्यान रखना है। यह मुश्किल फैसला होगा। मालिंगा न सिर्फ शारीरिक बल्कि मानसिक रूप से भी अच्छा महसूस कर रहा है। सबसे अहम यह है कि उसे टीम और चयनकर्ताओं का समर्थन हासिल है।
 
श्रीलंकाई कप्तान से जब सलामी बल्लेबाज तरांगा परानविताना की स्थिति के बारे में पूछा गया तो उन्होंने कहा कि तरांगा परानविताना फिट है। दिलशान के शाट पर उसके बाएं हाथ में चोट लगी थी लेकिन अब वह फिट है।
 
संगकारा ने कहा कि पी सारा ओवल का विकेट अच्छा दिख रहा है लेकिन उन्होंने स्वीकार किया कि भारत के 20 विकेट लेना आसान नहीं होगा। उन्होंने कहा कि यह अच्छा विकेट है और यह इस पर निर्भर करता है कि आप इस पर कैसे खेलते हो। अब तक जिस तरह से दोनों टीमों ने पिछले दो मैचों में खेल दिखाया है उसे देखते हुए मुझे लगता है कि इस मैच का परिणाम निकलेगा।
 
संगकारा ने कहा कि हम मैच जीतने की कोशिश करेंगे। हमारा ध्यान सभी पांच दिन अच्छी क्रिकेट खेलकर भारतीयों पर पर्याप्त दबाव बनाना है। हमें उनके 20 विकेट लेने होंगे जो इस पिच पर आसान नहीं है।

संगकारा ने कहा कि चोटों के समय खिलाड़ियों का समर्थन करना जरूरी है। उन्होंने कहा कि चोटों का डर बना रहता है। मैं नहीं जानता कि सभी देशों ने चोटिल खिलाड़ियों या चोटों के कारण अपना कैरियर समाप्त करने वाले क्रिकेटरों के लिये क्या कोई खास योजना बनायी है या नहीं।
 
टेस्ट रैंकिंग में शीर्ष पर काबिज होने के बारे में पूछे जाने पर संगकारा ने कहा कि नंबर एक की पदवी बरकरार रखना चुनौती है। उन्होंने कहा कि दुनिया का नंबर एक बल्लेबाज बनना मेरे लिए सम्मान की बात है। मैं पहले भी यहां तक पहुंचा हूं। फिर से यहां पहुंचकर अच्छा लग रहा है लेकिन चुनौती वहां पहुंचने को लेकर नहीं बल्कि वहां बने रहने को लेकर है। यह अगले मैच और अगली सीरीज में मेरे प्रदर्शन पर निर्भर करता है।

संगकारा ने कहा कि किसी भी स्पिनर के लिए मुथैया मुरलीधरन की जगह लेना आसान नहीं होगा। उन्होंने कहा कि मुरली की जगह भरने में थोड़ा समय लगेगा। यदि आप कहते हो कि आप अगले मुरली के बारे में सोच रहे हो तो यह अन्य गेंदबाजों के साथ सही नहीं होगा। कभी भी दूसरा मुरली नहीं मिल सकता है।
 
उन्होंने कहा कि हमें किसी भी गेंदबाज की तुलना मुरली से नहीं करनी चाहिए। यदि आप ऐसा करते हो तो यह उसके और गेंदबाज के साथ भी अन्याय होगा। कोई भी मुरली के रिकार्ड के करीब भी नहीं पहुंच सकता।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:मालिंगा को लेकर अब भी तस्वीर साफ नहीं: संगकारा