अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

यमुना का जलस्तर बढ़ा लेकिन खतरा नहीं

हरियाणा के हथिनी कुंड बैराज से छोड़े गए पानी की वजह से दिल्ली में यमुना नदी के जलस्तर में खासी बढोत्‍तरी हुई है। लेकिन बाढ़ का फिलहाल कोई खतरा नहीं है।

दिल्ली सरकार के बाढ़ नियंत्रण विभाग के मुख्य अभियंता बी.एस. तोमर ने बताया कि तीन दिन पहले हथिनी कुंड बैराज से 95  हजार क्यूसेक पानी यमुना नदी में छोड़ा गया था। पानी को दिल्ली तक पहुंचने में 72  घंटे का समय लगता है।

तोमर ने बताया कि पानी छोडे़ जाने की वजह से पूर्वी दिल्ली में गांधीनगर के निकट बने लोहे के पुल के नीचे यमुना नदी का जलस्तर 204.28  मीटर पर पहुंच गया है। यहां खतरे का निशान 204.83  मीटर है।

उन्होंने बताया कि इसके बाद और पानी छोडा गया है। जिससे अगले 8.10  घंटे तक बहाव तेज रहेगा और फिर पानी उतरने लगेगा। उन्होंने कहा कि पानी छोडे़ जाने की वजह से बाढ़ का कोई खतरा फिलहाल नहीं है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:यमुना का जलस्तर बढ़ा लेकिन खतरा नहीं