DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

राजनीतिक अखाड़ा बन गया है कॉमनवेल्थ गेम्सः क्रासव्हाइट

राजनीतिक अखाड़ा बन गया है कॉमनवेल्थ गेम्सः क्रासव्हाइट

भ्रष्टाचार और अधूरी तैयारियों के लिए चौतरफा आलोचना झेल रहे दिल्ली राष्ट्रमंडल खेलों के बचाव में उतरते हुए ऑस्ट्रेलियाई राष्ट्रमंडल खेल संघ के अध्यक्ष पैरी क्रासव्हाइट ने कहा कि भारत में ये खेल अब राजनीतिक द्वंद्व में बदल गए हैं और लोग भ्रष्टाचार तथा निमार्णकार्यो में देरी के आरोप प्रत्यारोप लगा कर अपना अपना हिसाब बराबर करने का प्रयास कर रहे हैं।
    
द संडे मार्निंग हेराल्ड अखबार में क्रासव्हाइट के हवाले से कहा कि मुझे ये आरोप राजनीतिक लग रहे हैं।
उन्होंने कहा कि ऐसा लगता है कि सरकार और अन्य लोग एक दूसरे के बारे में आरोप लगा रहे हैं और सब अपना हित साधने का मौका तलाश रहे हैं।
   
राष्ट्रमंडल खेलों की आयोजन समिति पर बड़े स्तर पर भ्रष्टाचार के आरोप लगाए हैं। इन खेलों का काम समय पर करने के लिए सरकार की विभिन्न एजेंसियां रात दिन काम में जुटी हैं।
   
राष्ट्रमंडल खेलों के आयोजकों को एक तरह से राहत देते हुए उन्होंने कहा कि दुनिया के किसी भी देश में जब बड़े स्तर की बहुस्पर्धा आयोजित की जाती है तो इस तरह के आरोप प्रत्यारोप लगते ही रहते हैं। यह एक आम बात है।

क्रासव्हाइट ने कहा कि इस तरह के खेलों के आयोजन से पहले हमेशा ही इस तरह की चीजें होती हैं, एक दूसरे पर आरोप लगते हैं और आमतौर पर जब खेलों का आयोजन सफलतापूर्वक हो जाता है तो इसकी सफलता का श्रेय लेने के लिए होड़ लग जाती है।

इन खेलों की सुरक्षा के बारे में क्रासव्हाइट ने कहा कि इन खेलों के आयोजक सुरक्षा के मामले में काफी उत्साह से भरे हुए हैं। उन्होंने कहा कि मेरी सोमवार सुबह ही दिल्ली राष्ट्रमंडल खेलों के अधिकारियों से बात हुई है और जहां तक योजना का सवाल है, वह तो ठीक नजर आ रही है। हम यह मान कर चल रहे हैं कि इन खेलों के दौरान सुरक्षा का स्तर उच्च स्तर का होगा ।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:राजनीतिक अखाड़ा बन गया है कॉमनवेल्थ गेम्सः क्रासव्हाइट