DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

फिर रंग लाई 'संकटमोचक' प्रणब दा की कोशिश

फिर रंग लाई 'संकटमोचक' प्रणब दा की कोशिश

केंद्रीय वित्त मंत्री प्रणब मुखर्जी की ओर से सोमवार सुबह नाश्ते पर विपक्षी नेताओं को बुलाना कामयाब रहा। बैठक में महंगाई पर बहस कराने और इस मुद्दे को लेकर बीते कई दिनों से संसद में जारी गतिरोध को खत्म करने पर सहमति बनी।

महंगाई पर चर्चा की मांग को लेकर विपक्ष के हंगामे की वजह से मानसून सत्र के पहले सप्ताह में संसद की कार्यवाही पूरी तरह बाधित रही थी। ऐसे में मुखर्जी की इस कामयाब पहल के बाद सोमवार को संसद की कार्यवाही बाधित नहीं हुई।

लोकसभा की कार्यवाही सोमवार सुबह आरंभ होने पर लोकसभाध्यक्ष मीरा कुमार ने कहा, ''मुझे यह बताते हुए खुशी हो रही है कि सत्ता पक्ष और विपक्ष में आम आदमी से जुड़े महंगाई के मुद्दे पर चर्चा को लेकर सहमति बन गई है। इस मसले पर सदन में मंगलवार को चर्चा होगी और सोमवार को प्रश्नकाल चलेगा।''

इससे पहले मुखर्जी के साथ बैठक के बाद मार्क्‍सवादी कम्युनिस्ट पार्टी (माकपा) के नेता सीताराम येचुरी ने संवाददाताओं से कहा कि महंगाई के मुद्दे पर मंगलवार को चर्चा की जाएगी। किस नियम के तहत चर्चा होगी, इसके जवाब में येचुरी ने कहा, ''किसी नियम के तहत नहीं। यह प्रणब मुखर्जी के नियम के अंतर्गत होगी।''

कांग्रेस के 'संकटमोचक' कहे जाने वाले मुखर्जी ने सोमवार सुबह विपक्षी दलों के नेताओं की एक बैठक बुलाई थी। इस बैठक का मकसद महंगाई के मुद्दे पर संसद में जारी गतिरोध को खत्म करना और आमसहमति बनाना था।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:फिर रंग लाई 'संकटमोचक' प्रणब दा की कोशिश