DA Image
14 जुलाई, 2020|2:32|IST

अगली स्टोरी

लोगों को एकजुट कर प्रदेश की अलग पहचान बनाई: नीतीश

बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने वर्ष 2015 तक राज्य को विकसित प्रदेश बनाने का संकल्प दोहराते हुए शनिवार को कहा कि उनकी सरकार ने लोगों को एकजुट कर विकास के मामले में पूरे देश में एक अलग पहचान बनाई है।

कुमार ने जिले के विद्यापति नगर प्रखंड के बाजीतपुर स्थित राजकीय विद्यापति उच्च विद्यालय परिसर में करीब 102 करोड रूपए की विभिन्न विकास योजनाओं का शिलान्यास एवं उद्घाटन करने के बाद एक सभा को संबोधित करते हुए कहा कि उनकी सरकार बिहार के सर्वागींण विकास के प्रति कृत संकल्पित है। उन्होंने कहा कि महाकवि विद्यापति की रचनाएं आज भी पढ़ी जा रही है और यह समाज को जोड़ने और नई दिशा देने वाली हैं।

मुख्यमंत्री ने कहा कि समस्तीपुर जिले के विद्यापति नगर रेलवे स्टेशन का नाम विद्यापति धाम करने का प्रस्ताव राज्य सरकार द्वारा रेल मंत्रालय को भेजा जाएगा। इसके अलावा महाकवि विद्यापति की समाधि स्थल को भी पर्यटक स्थल के रूप में विकसित किया जाएगा।

कुमार ने कहा कि भ्रष्टाचार में लिप्त लोग आज उनकी सरकार पर अनर्गल आरोप लगा कर जनता को गुमराह करने का प्रयास कर रहे हैं। उन्होंने दावा किया कि बिहार विधान सभा चुनाव में ऐसे तत्वों और दलों का सफाया हो जाएगा। उन्होंने जोर देकर कहा कि किसी भी परिस्थिति में बिहार में भ्रष्टाचार और अपराध को बर्दाश्त नहीं किया जाएगा।

मुख्यमंत्री ने कहा कि भ्रष्टाचार के मामलों में स्पीडी ट्रायल करा कर इसमें संल्पित लोगों को सजा दिलाई जाएगी। बिहार में पंचायती राज व्यवस्था की चर्चा करते हुए उन्होंने कहा कि उनकी सरकार ने राज्य में पंचायती राज व्यवस्था को मजबूत किया है ताकि गांव और समाज का सर्वागीण विकास हो सके।

कुमार ने आरोप लगाया कि पूर्ववर्ती लालू-राबडी की सरकार ने जातपात के नाम पर समाज को बांट दिया था लेकिन भारतीय जनता पार्टी और जनता दल यूनाईटेड की गठबंधन सरकार ने समाज के बिखरे लोगों के दिलों को जोड़ा है। उन्होंने कहा कि वर्ष 2008-09 में बिहार की विकास दर 16 प्रतिशत से अधिक है और इस राज्य को विकास के पथ पर आगे बढ़ने से अब कोई रोक नहीं सकता।

समारोह को जदयू के प्रदेश अध्यक्ष विजय कुमार चौधरी, विधान पार्षद संजय झा,  विनोद कुमार चौधरी, सांसद अश्वमेद्य देवी, जदयू जिलाध्यक्ष अशोक कुमार मुन्ना,  भाजपा के पूर्व जिलाध्यक्ष प्रो. विजय कुमार शर्मा और सतेन्द्र नारायण सिंह सहित कई नेताओं ने भी संबोधित किया।

इसके पूर्व मुख्यमंत्री जिले के विद्यापति नगर स्थित महाकवि विद्यापति की समाधि स्थल गए और निकट ही बने शिव मंदिर में पूजा अर्चना भी की। इस मौके पर कुमार ने मंदिर परिसर में स्थित एक संग्रहालय का उद्घाटन भी किया।

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:लोगों को एकजुट कर प्रदेश की अलग पहचान बनाई: नीतीश