DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

धमाकेदार जीत के साथ इंग्लैंड का सीरीज पर कब्जा

धमाकेदार जीत के साथ इंग्लैंड का सीरीज पर कब्जा

कप्तान एंड्रयू स्ट्रास (154) की सर्वश्रेष्ठ वनडे पारी और जोनाथन ट्राट (110) के साथ उनकी रिकार्ड साझेदारी से इंग्लैंड ने बांग्लादेश को तीसरे एवं अंतिम वनडे मैच में सोमवार को 144 रन से हराकर तीन मैचों की सीरीज पर 2-1 से कब्जा कर लिया।

स्ट्रास, ट्राट और रवि बोपारा (नाबाद 45) के धमाल से इंग्लैंड ने पहले बल्लेबाजी करते हुए निर्धारित 50 ओवर में सात विकेट पर 347 रन का पहाड़नुमा स्कोर खड़ा किया जिसके जवाब में बंगलादेश की टीम 47 ओवर में 203 रन पर सिमट गई। मेहमान टीम की ओर से महमूदुल्लाह ने सर्वाधिक 42 रन बनाए।

बर्मिंघम के एजबेस्टन मैदान पर खेले गए इस मुकाबले में इंग्लैंड ने क्रेग कीसवेटर (1) का विकेट सस्ते में गंवा दिया लेकिन इसके बाद स्ट्रास और ट्राट ने दूसरे विकेट के लिए रिकार्ड 250 रन जोड़े। यह इंग्लैंड के वनडे इतिहास में किसी भी विकेट के लिए सबसे बड़ी साझेदारी है। इससे पहले यह रिकार्ड स्ट्रास और एंड्रयू फ्लिंटाफ के नाम था जिन्होंने वेस्टइंडीज के खिलाफ वर्ष 2004 में 226 रन की साझेदारी की थी।

मैन ऑफ द मैच स्ट्रास ने बांग्लादेशी गेंदबाजों की जमकर धुनाई करते हुए 140 गेंदों में 16 चौकों और पांच छक्कों की मदद से 154 रन बनाए जो उनके वनडे करियर की सर्वश्रेष्ठ पारी है। ट्राट ने भी उनका शानदार साथ देते हुए 121 गेंदों में 12 चौकों की मदद से 110 रन जोड़े। मशरफे मर्तजा ने ट्राट को शाकिब अल हसन के हाथों कैच कराते हुए इस साझेदारी को तोड़ा।

इस साझेदारी के टूटने के साथ ही इंग्लैंड ने 46 रन के अंतराल पर छह विकेट गंवा दिए। स्ट्रास छठे बल्लेबाज के रूप में 283 रन के टीम योग पर आउट हुए। बोपारा ने अंतिम ओवरों में धुंआधार बल्लेबाजी करते हुए महज 16 गेंदों में दो चौकों और चार छक्कों की मदद से नाबाद 45 रन बनाए।

ल्यूक राइट बिना खाता खोले, पाल कोलिंगवुड आठ रन, इयोन मोर्गन एक रन और टिम ब्रेस्नन दस रन बनाकर आउट हुए। लेकिन बोपारा अंतिम ओवरों में विस्फोटक बल्लेबाजी कर इंग्लैंड को 347 रन के विशाल स्कोर तक पहुंच दिया। टीम का यह तीसरा सबसे बड़ा वनडे स्कोर है।

बांग्लादेश की ओर से मर्तजा ने तीन विकेट लिए जबकि शफीउल इस्लाम और रुबेल हुसैन को दो-दो विकेट मिले। शफीउल इस्लाम ने नौ ओवर में 97 रन लुटाए। जीत के लिए 348 रन के विशाल लक्ष्य का पीछा करने उतरी बांग्लादेश की टीम कभी भी मुकाबले में नहीं दिखी। महज 20 रन के स्कोर पर उसे तमीम इकबाल (16) के रूप में पहला झटका लगा और उसके बाद स्कोर के 102 रन तक पहुंचते-पहुंचते उसके छह बल्लेबाज पवेलियन कूच कर गए।

तेज गेंदबाज अजमल शहजाद ने इकबाल और इमरूल काएस (4) की सलामी जोड़ी को पवेलियन का रास्ता दिखाया जबकि बोपारा ने बल्लेबाजी के बाद गेंदबाजी में भी अपने हाथ दिखाते हुए दस ओवर में 38 रन देकर चार विकेट चटकाए। हालांकि महमूदुल्लाह और अब्दुर रज्जाक (27) ने आठवें विकेट के लिए 56 रन जोड़े जिसकी बदौलत बांग्लादेश 200 रन के स्कोर तक पहुंच पाया लेकिन उनका यह प्रयास बंगलादेश की हार को टालने के लिए नाकाफी था।
 
सीरीज का पहला मैच इंग्लैंड ने आसानी से जीता था लेकिन दूसरे मैच में बांग्लादेश ने पांच रन से जीत हासिल करके सीरीज में 1-1 की बराबरी कर ली थी। लेकिन अंतिम वनडे में मेहमान टीम को एक बार फिर हार का सामना करना पडा। इंग्लैंड की यह लगातार चौथी सीरीज जीत है।

 

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:धमाकेदार जीत के साथ इंग्लैंड का सीरीज पर कब्जा