स्वाइन फ्लू का बढ़ा प्रकोप, सावधान रहें दिल के मरीज - स्वाइन फ्लू का बढ़ा प्रकोप, सावधान रहें दिल के मरीज DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

स्वाइन फ्लू का बढ़ा प्रकोप, सावधान रहें दिल के मरीज

स्वाइन फ्लू का बढ़ा प्रकोप, सावधान रहें दिल के मरीज

बरसात के आगमन के साथ ही स्वाइन फ्लू अथवा एच।एन। के प्रकोप में वृद्धि होने की आशंका के मद्देनजर ह्दय रोग विशेषज्ञों ने दिल के मरीजों को खास एहतियात बरतने की सलाह दी है क्योंकि स्वाइन फ्लू के संक्रमण से दिल के दौरे की आशंका बढ़ती है।

देश भर में 16 सौ से अधिक लोगों को मौत का ग्रास बनाने वाले स्वाइन फ्लू के विषाणुओं के बरसात के आगमन के साथ अधिक तेजी से फैलने की आशंका बढ़ गई है। पिछले कई महीनों के दौरान स्वाइन फ्लू का प्रकोप बिल्कुल कम हो गया था, लेकिन कुछ समय से इसके प्रकोप में तेजी देखी जा रही है।

गत सप्ताह देश भर में स्वाइन फ्लू के 345 मामले आए तथा 17 मरीजों की मौत हुई। हालांकि सवाइन फ्लू ने अपना पूरा असर नहीं दिखाया है, लेकिन विशेषज्ञों का कहना है कि बरसात के बढ़ने के साथ इस संक्रमण का प्रकोप बढ़ सकता है।

सुप्रसिद्ध ह्दय चिकित्सक एवं मेट्रो हास्पिटल्स एंड हार्ट इंस्टीच्यूट के निदेशक डॉ. पुरूषोत्तम लाल का कहना है कि जब कोई व्यक्ति स्वाइन फ्लू से ग्रस्त होता है तब शरीर में रक्त की जरूरत बढ़ जाती है, जिसके कारण ह्दय पर दबाव बढ़ जाता है। अगर ह्दय पहले से ही रोग ग्रस्त है हो या कमजोर हो तो ह्दय पद बढ़ा हुआ दबाव दिल के दौरे का कारण बन सकता है।

मेडिसन विशेषज्ञ डॉ. राकेश कुमार का कहना है कि हालांकि स्वाइन फ्लू सभी लोगों के लिए खतरनाक है, लेकिन गंभीर बीमारियों के मरीजों के लिए स्वाइन फ्लू अधिक खतरनाक साबित होता है क्योंकि उनकी रोग प्रतिरक्षण प्रणाली एवं शरीर के अन्य अंग पहले से ही कमजोर होते हैं।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:स्वाइन फ्लू का बढ़ा प्रकोप, सावधान रहें दिल के मरीज