DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

नक्सलियों का बंद, सुरक्षा के पुख्ता इंतजाम

प्रतिबंधित संगठन भारतीय कम्युनिस्ट पार्टी (माओवादी) के सात राज्यों में दो दिवसीय बंद के मद्देनजर बिहार में सुरक्षा के व्यापक इंतजाम किए गए हैं। प्रदेश में बंद का अब तक मिलाजुला प्रभाव रहा है। नक्सल प्रभावित जिलों औरंगाबाद, गया, जमुई, अरवल, जहानाबाद, रोहतास, मुंगेर और अरवल जिलों के ग्रामीण इलाकों में बंद का व्यापक असर देखा जा रहा है। बंद का सबसे अधिक प्रभाव यातायात पर नजर आ रहा है।

बंद के चलते लंबी दूरी की बसें व ग्रामीण क्षेत्रों में वाहन नहीं चल रहे हैं, जबकि पूर्व मध्य रेलवे ने छह ट्रेनों को आठ जुलाई तक रद्द कर दिया। करीब सात रेलगाडियों के मार्ग में बदलाव किए गए हैं।

इधर, राज्य के अपर पुलिस महानिदेशक पी के ठाकुर ने बुधवार को बताया कि राज्य में बंद के दौरान अब तक कहीं से अप्रिय घटना की सूचना नहीं है। उन्होंने कहा कि बंद को लेकर सभी एहतियाती कदम उठाए गए हैं। पुलिस, जिला प्रशासन और रेल प्रशासन को अलर्ट रहने को कहा गया है। सभी महत्वपूर्ण रेलगाडियों के आगे 'पायलट ट्रेन' चलाई जाएगी। संवेदनशील जिलों में अतिरिक्त बलों को तैनात किया गया है।

उल्लेखनीय है कि नक्सलियों ने अपने नेता चेरूकरी राजकुमार उर्फ आजाद के आंध्र प्रदेश में पुलिस मुठभेड़ में मारे जाने के खिलाफ इस बंद का आह्वान किया है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:नक्सलियों का बंद, सुरक्षा के पुख्ता इंतजाम