अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

अब आया वोटर जोश में

लोकसभा चुनाव के चौथे दौर में गुरुवार को यूपी के 18 घाटों पर ज्यादा भीड़ दिखाई पड़ी। छिटपुट हिंसा के बीच वोट प्रतिशत 50 फीसदी के आसपास रहा। हिंसा के लिए बदनाम पश्चिम उत्तर प्रदेश में मतदान शांतिपूर्ण निटपने पर चुनाव आयोग ने राहत की साँस ली। मेरठ में सबसे ज्यादा 52 प्रतिशत वोट पड़े। बृज क्षेत्र की आठ सीटों पर 46 फीसदी मतदान हुआ। आगरा सीट के जलेसर विधानसभा क्षेत्र के दो पोलिंग स्टेशनों सराय नीम और रनौसा पर चुनाव पर्यवेक्षकों ने बूथ कैप्चरिंग पाई। यहाँ पुनर्मतदान की घोषणा की गई है।ड्ढr कन्नौज के तिर्वा विधानसभा के ठठिया थाना क्षेत्र में पड़ने वाले सरौली गाँव में एक जाति विशेष के समर्थकों पर पुलिस ने लाठीचार्ज किया, जिसमें तीन लोग घायल हो गए। फरुखाबाद में विकास के मुद्दों को लेकर लगभग दर्जन भर केन्द्रों पर मतदान का बायकाट हुआ। इटावा सीट के कानपुर देहात स्थित विधानसभा क्षेत्र सिकंदरा में भी वोट बहिष्कार हुआ।ड्ढr कानपुर देहात में कुछ बूथों पर ईवीएम में खराबी के कारण कुछ समय मतदान बाधित रहा। हाथरस में राष्ट्रीय क्रांति पार्टी के उम्मीदवार जय प्रकाश वाल्मीकि का हृदय गति रुकने से निधन हो गया। वहीं मथुरा में एक होमगार्ड व मैनपुरी में एक मतदाता की मौत हो गई। जलेसर विस क्षेत्र के दो पोलिंग बूथों पर पुनर्मतदान की घोषणा की गई है। मतदान शुरू होने के आधे घंटे बाद सभी सीटों पर अच्छा मतदान हुआ। दोपहर तक वोटिंग अच्छी रही। ढाई बजे के बाद वोटरों की संख्या फिर बढ़ने लगी। नोट बाँटने के आरोप में मथुरा में बसपा प्रत्याशी समर्थकों और ग्रामीणों के बीच झड़प हुई। वाहन तोड़े गए। आगरा में दलित मतदाताओं ने शिकायत की कि दबंगों ने उन्हें वोट नहीं डालने दिए। मुजफ्फरनगर में प्रत्याशी कादिर राणा और अनुराधा चौधरी के बीच तीखी झड़पें हुईं। ड्ढr जबकि बागपत के हसनपुर मसूरी गाँव में ईवीएम खराब होने के कारण मतदान निरस्त कर दिया गया। बागपत से बसपा प्रत्याशी मुकेश पंडित की गाड़ी पर पथराव किए जाने की सूचना है। लोकतंत्र के सबसे बड़े महापर्व यानी लोकसभा चुनाव के चौथे चरण में मतदान के दौरान वोटरों की भारी भीड़ उमड़ी। आठ राज्यों में हुए मतदान में 57 प्रतिशत वोट पड़े। कुछ जगहों पर हल्की-फुल्की हिंसा हुई। जम्मू-कश्मीर, पश्चिम बंगाल और राजस्थान में हिंसा की वारदात दर्ज की गईं। इसमें तीन लोगों की मौत हो गई जबकि तीन मतदाताओं की जान चिलचिलाती धूप में चली गई।ड्ढr आठ राज्यों और एक केंद्र शासित प्रदेश में हुए मतदान के दौरान पश्चिम बंगाल में सबसे ज्यादा 75 फीसदी वोट पड़े। विदश मंत्री और कांग्रस के दिग्गज प्रणव मुखर्जी के संसदीय क्षत्र जंगीपुर मं मतदान के दौरान हिंसक घटनाएँ हुईं। माकपा का एक कार्यकर्ता काशीनाथ मंडल बम हमल मं मारा गया। मंडल वाट डालन के बाद घर लौट रहा था तभी कुछ अज्ञात लागां न उस पर बम स हमला किया, जिसस उसकी मौत हा गई। बर्दवान जिल के आसनसाल लाकसभा क्षत्र मं सशस्त्र लागां न कन्यापुर मं एक बूथ पर बम फेंके और गालियाँ चलाईं, जिसस वाट डालन आए एक व्यक्ित की मौत हा गई और तीन पुलिसकर्मियां सहित आठ लाग घायल हुए। इस घटना के बाद मतदान राक दना पड़ा। इस घटना के बाद गुस्साई भीड़ न वहाँ खड़ वाहनों और कुछ मकाना मं आग लगा दी। इस बीच पूर्वी मिदनापुर जिल मं कांति लाकसभा क्षत्र मं वाट डालन आए दा मतदाताआं की लू लगन स मौत हा गई।ड्ढr हिंसा की एक अन्य वारदात राजस्थान के सवाईमाधोपुर जिले में हुई जहाँ बूथ कैपचरिंग की कोशिश कर रहे समूह पर सुरक्षा बल के जवानों ने फायरिंग की। इसमें एक व्यक्ित की मौत हो गई। श्रीनगर में कई मतदाताआं न शिकायत की कि सूची स उनका नाम गायब है। रूस मं भारत के राजदूत रह चुके डी़पी़ धर के बट विजय धर और उनकी पत्नी वोट न डाल पाने से मायूस हा गए।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: अब आया वोटर जोश में