अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

श्रीलंका : लिट्टे से समर्पण की अंतरराष्ट्रीय अपील

श्रीलंका के दान देने वाले बड़े अंतरराष्ट्रीय सहयोगकर्ताआें ने उत्तरी युद्ध क्षेत्र में आम नागरिकों की हत्याआें को टालने के लिए तमिल गुरिल्लाआें से शस्त्र छोड़कर वार्ता करने का आग्रह किया है। श्रीलंका को दान देने वाले प्रमुख देशों अमेरीका, यूरोपियन यूनियन, जापान और नावेर्ं ने लिबरेशन टाइगर्स ऑफ तमिल ईलम (लिट्टे) से आग्रह किया कि वह युद्ध क्षेत्र में फंसे हजारों लोगों को बचाने और हत्याआें को रोकने के लिए समर्पण पर विचार करें। श्रीलंका को सहयोग करने वालों ने एक संयुक्त बयान में कहा कि लोगों को कष्टों से बचाने, नागरिकों की हत्याएं रोकने के लिए लिट्टे से श्रीलंका सरकार से संघर्ष समाप्त करने, शस्त्र छोड़ने, हिंसा त्यागने, सरकार के आम माफी के प्रस्ताव को स्वीकार करने और न्याय पाने की खातिर तथा मसले के राजनीतिक समाधान के लिए एक राजनीतिक दल के रूप में भागीदार बनने का आग्रह किया है। नागरिकों को मुक्त आवागमन की अनुमति देने के लिट्टे पर अंतरराष्ट्रीय दबाव नाकाम हो गए हैं। उत्तरी क्षेत्र में लिट्टे की पकड़ अब कुछ ही दिनों की बात रह गई लगती है। बयान में कहा गया है कि श्रीलंका सरकार और लिट्टे को समझना चाहिए कि नागरिकों के जान-माल के नुकसान से कोई फायदा नहीं होगा।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: श्रीलंका : लिट्टे से समर्पण की अंतरराष्ट्रीय अपील