DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

खिलौने पर प्रतिबंध पर डब्ल्यूटीआे जाएगा चीन

भारत में चीनी खिलौने के आयात पर लगे प्रतिबंध का मामला विश्व व्यापार संगइन (डब्ल्यूटीआे) में पहुंच सकता है। भारत की आेर से चीनी खिलौने के आयात पर लगाए गए छह महीने के प्रतिबंध को लेकर चीन खासा खफा है। चीन ने इस मामले डब्ल्यूटीआे के विवाद निबटारा प्राधिकरण के समक्ष ले जाने का फैसला किया है। उसका कहना है कि यह मौजूदा वैश्विक मंदी के दौर में दुनिया के देशों द्वारा अमल में लाई जा रही संरक्षणवादी नीति का हिस्सा है, जिसके जरिए ये देश अपने घरेलू उद्योग को विदेशी कंपनियों की प्रतिस्पर्धा से महफूज रखना चाहते हैं। चीन का कहना है कि बिना कोई वजह बताए चीनी खिलौने के आयात पर प्रतिबंध लगाने का भारत का कदम गैरवाजिब है, लिहाजा वह डब्ल्यूटीआे से जानना चाहेगा कि यह कहीं अंतर्राष्ट्रीय व्यापार नियमों का उल्लंघन तो नहीं है। दूसरी आेर भारत खिलौना निर्माता संघ के अध्यक्ष राज कुमार का कहना है कि देश की अर्थव्यवस्था और उपभोक्ताआें के हितों को देखते हुए सरकार ने चीनी खिलौने के आयात पर प्रतिबंध लगाया है। हाल के दिनों में सिर्फ भारत ही नहीं बल्कि पूरी दुनिया में चीनी खिलौनों में विषैले तत्व पाए जाने की खबरें मीडिया में थीं, जिसके कारण इनके इस्तेमाल पर कई सवाल उठाए गए थे।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: खिलौने पर प्रतिबंध पर डब्ल्यूटीआे जाएगा चीन