DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

सत्यम घोटाला : भारत पहुंचा अमेरिकी जांच दल

अमेरिकी जांच दल करगा तहकीकात अमेरिकी सिक्युरिटी और एक्सचेंज कमीशन भी सत्यम घोटाले की तहकीकात करगा। इस सिलसिले में कमीशन का एक प्रतिनिधि मंडल भारत आ चुका है। अगले दो दिन में अमेरिकी दल सेबी और सत्यम के नए बोर्ड से मुलाकात कर मामले की समीक्षा करगा। उलेलखनीय है कि सत्यम न्यूयॉर्क स्टॉक एक्सचेंज में भी सूचीबद्ध है और रामलिंगा राजू की स्वीकृति के बाद अमेरिकी निवेशक वहां की विभिन्न अदालतों में सत्यम के खिलाफ दर्जनों दावे दायर कर चुके हैं। चार भारतीय एजेंसियां पहले से ही इस मामले की जांच कर रही हैं। सेबी की पूछताछ शुरू सत्यम के संस्थापक रामलिंगा राजू और उसक भाई रामा राजू स पूछताछ क लिए बाजार नियामक संस्था भारतीय प्रतिभूति व विनिमय बोर्ड (सबी) की एक टीम बुधवार को चंचलगुडा केंद्रीय जल पहुंच गई। आरोपियों स पूछताछ की अनुमति दन संबंधी सर्वोच्च न्यायालय क आदश की प्रति लिए हुए सबी की टीम न महाप्रबंधक सुनील कुमार क नतृत्व मं सुबह 10 बज जल मं प्रवश किया। टीम अपन साथ बहुत सारी फाइलं भी साथ लिए हुए थी। अदालती आदश क मुताबिक सुनील कुमार को पूछताछ स पहल जल अधीक्षक स अपनी टीम क सदस्यों का परिचय करवाना पड़ा। यह स्पष्ट नहीं हो सका कि पूछताछ जल अधिकारियों की मौजूदगी मं होगी या नहीं। सर्वाच्च न्यायालय न मंगलवार को सबी को राजू बंधुओं स जल मं चार स छह फरवरी तक पूछताछ की अनुमति दी थी। जारी रहेगी बोर्ड बैठक सत्यम क सरकार द्वारा नियुक्त नए बोर्ड की बैठक गुरुवार को भी जारी रहगी। बोर्ड न अपनी बैठक को एक दिन क लिए बढ़ा दिया है। सूत्रों ने बताया कि कंपनी के खरीददारों की लंबी फेहरिस्त तैयार हो चुकी है, जिसमें एलएंडटी के अलावा हिंदुजा ग्लोबल सॉल्यूशन, स्पाइस ग्रुप और आई गेट भी शामिल हैं। बैठक में कंपनी के सीईओ और सीएफओ के नामों पर भी फैसला लिया जाना है। इसके अलावा अध्यक्ष का नाम भी तय होना है। कंपनी ने कारोबारी खर्च जुटाने के लिए तीन सार्वजनिक बैंकों से ऋण के लिए संपर्क किया है। लिहाजा बैठक में इन बैंकों के नाम पर भी फैसला लिया जाना है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: सत्यम घोटाला: भारत पहुंचा अमेरिकी जांच दल