अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

नाकामूरा ने अंतरराष्ट्रीय फुटबाल को कहा अलविदा

नाकामूरा ने अंतरराष्ट्रीय फुटबाल को कहा अलविदा

जापान के मिडफील्डर शुनसुके नाकामूरा ने अपनी टीम के फुटबाल विश्व कप से बाहर हो जाने के बाद अंतर्राष्ट्रीय फुटबाल को अलविदा कह दिया है।

नाकामूरा अपने इस फैसले के बाद अंतर्राष्ट्रीय मैचों का शतक पूरा करने से दो मैच कम रह गए। स्थानीय मीडिया ने रिपोर्ट दी कि 32 वर्षीय नाकामूरा ने राष्ट्रीय टीम से संन्यास लेने का फैसला किया है। नाकामूरा ने दक्षिण अफ्रीका में अपनी टीम के अंतिम 16 तक के सफर में अधिकतर समय बैंच पर गुजारा था।

जापान मंगलवार को अंतिम 16 में पराग्वे से पेनाल्टी शूट आउट में 3-5 से हार गया था। जापान के लिए 98 मैचों में 24 गोल करने वाले नाकामूरा ने कहा कि मैं विश्व कप पर अपनी कुछ छाप छोड़ना चाहता था, लेकिन बैंच पर बैठे रहना निराशाजनक था। ऐसा लगता था कि फुटबाल के देवता भी मेरी परीक्षा ले रहे थे।

नाकामूरा को अपनी धरती पर 2002 में सुयंक्त रूप से आयोजित हुए विश्व कप में फ्रांस के फिलिप ट्राजियर ने जापानी टीम में नहीं चुना था। जापान तब अंतिम 16 पहुंचा था। वह ब्राजील के जीको के तहत 2006 में जर्मनी में हुए विश्व कप में खेले थे लेकिन तब जापानी टीम पहले ही दौर में बाहर हो गई थी। उन्होंने कहा कि जापान के लिए अगला मैच। अब संभव नहीं। विश्व कप में नहीं खेलना बहुत पीड़ादायक था। शायद यही मेरी नियति थी।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:नाकामूरा ने अंतरराष्ट्रीय फुटबाल को कहा अलविदा