DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

कांग्रेसी नेत्री के मकान में सेंधमारी

चोरों ने जादूनाथ एंक्लेव में रहने वाली जिला कांग्रेस की उपाध्यक्ष प्रोमिल्ला कुमार के एक मकान में सेंधमारी करके लाखों के आभूषण व नकदी चोरी कर लिए। इस वारदात को उस समय अंजाम दिया गया, जब वे अपने परिवार के साथ ज्वाला जी माता के दर्शन करने गए हुए थे। जहां से लौटने के बाद इस चोरी के बारे में पता चला। उन्होंने शक जताया है कि उनके यहां दो दिन पहले आए नौकर ने इस वारदात को अंजाम दिया होगा। पुलिस ने नौकर के खिलाफ मामला दर्ज कर तलाश शुरू कर दी है।


जादूनाथ एंक्लेव में रहने वाले अमित कुमार एक्सपोर्ट का काम करते हैं। उनकी मां प्रोमिल्ला कुमार जिला कांग्रेस की उपाध्यक्ष हैं। गत बुधवार को उन्होंने एक नेपाली नौकर को ट्रॉयल के आधार पर रखा। यह नौकर सेक्टर-14 में रहने वाली एक महिला के कहने पर इस घर तक पहुंचा था। शनिवार को अमित कुमार को अपने परिवार समेत माता ज्वालादेवी के दर्शन करने जाना था। उन्होंने नौकर को 300 रुपये दिए और उससे बाद में आने को कहा। इसके बाद परिवार के सभी लोग दर्शन करने के लिए रवाना हो गए। पीछे से उनके मकान की खिड़की तोड़कर चोर अंदर घुस आए और घर में रखी सभी अलमारियों का ताला तोड़ दिया। जहां उन्होंने तसल्ली से चोरी की वारदात को अंजाम दिया। चोरों ने करीब सवा लाख रुपये की नकदी और आठ लाख के आभूषण चुरा लिए। इसके बाद वे वहां से फरार हो गए। घर की कोई अलमारी ऐसी नहीं छोड़ी, जिसका उन्होंने ताला तोड़कर तलाशी न ली हो। बुधवार देर रात कांग्रेसी नेत्री का परिवार अपने घर पहुंचा तो उन्हें घर का सारा सामान बिखरा हुआ मिला। इसे देख उनके होश उड़ गए। उन्होंने देखा कि घर में रखी नगदी और सोने व डायमंड के आभूषण गायब हैं। उन्होंने तुरंत इसकी सूचना पुलिस को दी। सूचना मिलने पर सेक्टर-31 थाना एसएचओ व एफएसएल की टीम मौके पर पहुंची। मकानमालिक को शक है कि इस वारदात को अंजाम उनके यहां दो दिन रहे नौकर ने ही दिया है। पुलिस ने इस संबंध में नेपाली नौकर संतोष बहादुर के खिलाफ मामला दर्ज कर लिया है।
--------------------
अंकल मेरा बैग आपके यहां है कब आओगे
नेपाली नौकर की करतूत से लगता है कि वह बहुत तेज तर्रार है। उसने अपना बैग अमित कुमार के यहां छोड़ दिया था। ट्रॉयल के दौरान अमित कुमार व उसके परिवारवालों को उस नौकर का व्यवहार बेहद पसंद आया। इसके चलते उन्होंने कुछ दिन बाद उसे अपने घर बुलाया था, ताकि तब तक वे ज्वालादेवी के दर्शन करके वापस लौट सकें। शनिवार को नौकर संतोष बहादुर ने अमित कुमार को फोन किया कि अंकल उसका बैग आपके कमरे में है। उन्होंने नौकर से कहा कि अभी उन्हें आने में समय लगेगा। माना जा रहा है कि नौकर ने यह जानने के लिए ही फोन किया होगा कि वे कब तक अपने घर लौटेंगे। जब उन्हें इस बात आभाष हो गया कि उन्हें लौटने में अभी समय लगेगा तो ही इसके बाद उन्होंने तसल्ली से चोरी की वारदात को अंजाम दिया। इसी के चलते उसने अपना बैग उनके घर छोड़ा था, ताकि इस बहाने से वह उनसे बात कर सके।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:कांग्रेसी नेत्री के मकान में सेंधमारी