DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

हॉलैंड के खिलाफ होगी ब्राजील की अग्निपरीक्षा

हॉलैंड के खिलाफ होगी ब्राजील की अग्निपरीक्षा

पांच बार की चैंपियन और खिताब की प्रबल दावेदार ब्राजील की टीम फुटबॉल विश्वकप के क्वार्टरफाइनल में शुक्रवार को जब यहां हॉलैंड के खिलाफ उतरेगी तो उसके सामने ज़बर्दस्त फार्म में चल रही यूरोपीय टीम के पिछले 23 मैचों से चले आ रहे अपराजेय क्रम को तोड़ने की कठिन चुनौती होगी।
 
विश्व की नंबर एक टीम ब्राजील और चौथे नंबर पर काबिज हॉलैंड के बीच विश्वकप फाइनल्स के नॉकआउट दौर में यह तीसरा मुकाबला है। अब तक के दोनों मुकाबलों में हॉलैंड को हार डोलनी पड़ी है। ब्राजील ने साल 1994 में हॉलैंड को क्वार्टरफाइनल में 3-2 से हराया था और उसके बाद खिताब पर कब्जा किया था।

विश्वकप के अगले संस्करण में लातिन अमरीकी टीम ने हॉलैंड को सेमीफाइनल में पेनल्टी शूटआउट में शिकस्त दी थी लेकिन खिताबी मुकाबले में उसे मेजबान फ्रांस के हाथों पराजय का सामना करना पडा था। हॉलैंड को अगर ब्राजील के खिलाफ जीत दर्ज करनी है तो उसे अहम मौकों पर दबाव में आने की अपनी पुरानी कमजोरी से पार पाना होगा।
 
हालांकि हॉलैंड के खिलाफ अपने स्वर्णिम इतिहास के बावजूद ब्राजील के कोच डुंगा उसे हल्के में लेने के मूड में कतई नहीं है। डुंगा ने कहा कि हम जानते हैं कि नीदरलैंड के खिलाफ मैच बेहद कठिन होगा। उनके खेलने की शैली काफी हद तक हमसे मिलती जुलती है।

कोच ने कहा कि हॉलैंड के खिलाड़ी लंबे समय तक रक्षात्मक नहीं रहते हैं और लंबे पास उनकी सबसे बडी खासियत है। वे बहुत हद तक लातिन अमरीकी स्टाइल में आक्रामक खेलते है। तकनीकी रूप से भी वे बेहद सक्षम हैं और हमें उनके इस मजबूत पक्ष से निपटने के लिए तैयार रहना होगा।
 
विश्व की अग्रणी टीमों में शुमार हॉलैंड ने आज तक एक बार भी विश्वकप नहीं जीता है हालांकि वह 1974 और 1978 के फाइनल में पहुंच चुका है। उसने सभी आठ क्वालिफायर्स जीतकर शानदार अंदाज में विश्वकप में प्रवेश किया और यहां भी अपना स्वर्णिम प्रदर्शन जारी रखते हुए तीनों ग्रुप मैच जीतकर नौ अंक जुटाए। नॉकआउट में उसने स्लोवाकिया को 2-1 से हराकर अंतिम आठ में जगह बनाई।
 
दूसरी ओर इस विश्वकप में ब्राजील के प्रदर्शन में लगातार निखार आया है। हालांकि ग्रुप चरण में टीम अपनी छवि के अनुरूप प्रदर्शन नहीं कर पाई थी लेकिन अंतिम 16 नॉकआउट में उसने चिली जैसी मजबूत टीम को 3-0 से रौंदकर खिताबी दौड में शामिल अन्य टीमों में सिहरन जरूर पैदा कर दी है।
 
ब्राजील के स्टार खिलाड़ी रोबिन्हो हॉलैंड के खिलाफ मुकाबले को किसी फाइनल से कम नहीं मानते हैं। उन्होंने कहा कि निस्संदेह यह फुटबॉल विश्वकप का स्मरणीय मैच होगा। लेकिन हमें उम्मीद है हम 11वीं बार सेमीफाइनल में जगह बनाने में कामयाब रहेंगे और उसके बाद छठी बार खिताब भी हमारी झोली में आएगा।

लातिन अमरीकी टीम के लिए चिंता की बात यह है कि हॉलैंड के खिलाफ उसे अपने तीन प्रमुख मिडफील्डरों की सेवाएं नहीं मिल पाएगी। रामिरेज निलंबित हैं जबकि फिलिप मेलो एडी की चोट से जूझ रहे हैं। एलानो एडी की चोट के कारण पहले ही क्वार्टरफाइनल मुकाबले से बाहर हो चुके हैं।
 
हॉलैंड को लुई फेबियानो, रोबिन्हो और काका की तिकडी से सावधान रहना होगा। हालांकि उसकी रक्षापंक्ति ने टूर्नामेंट में अब तक शानदार खेल दिखाया और किसी भी विपक्षी खिलाड़ी को अपने किले में सेंध लगाने की छूट नहीं दी है। लेकिन उसकी असली अग्निपरीक्षा ब्राजील के खिलाफ होगी।
 
हॉलैंड के मिडफील्डर मार्क वान बोमेल ने कहा कि हम हमेशा अच्छा प्रदर्शन करना चाहते हैं लेकिन हर बार ऐसा नहीं होता है। हम क्वार्टरफाइनल में हैं और हमें अच्छी तरह मालूम है कि हमें क्या करना है। टीम के खिलाड़ियों में अहम का टकराव है लेकिन कोच बर्ट वान मारविक सबकुछ ठीकठाक होने का दावा करते हैं।

कुल मिलाकर नेल्सन मंडेला बे स्टेडियम में होने वाले विश्वकप के इस पहले क्वार्टरफाइनल में दर्शकों का पूरा मनोरंजन होने की उम्मीद है। इस मैच को जीतने के लिए दोनों टीमें अपनी पूरी ताकत झोंक देंगी जिससे दर्शकों को बेहतरीन फुटबॉल देखने को मिल सकता है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:हॉलैंड के खिलाफ होगी ब्राजील की अग्निपरीक्षा