अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

प्रतिबंध पर ईरान की यूरोपीय संघ को धमकी

प्रतिबंध पर ईरान की यूरोपीय संघ को धमकी

ईरान ने यूरोपीय संघ (ईयू) के सदस्य देशों को धमकी दी है कि उसके खिलाफ कठोर प्रतिबंध लगाने के उनके फैसले के गंभीर परिणाम हो सकते हैं।

ईरान के विदेश मंत्री मनोचेर मोत्तकी ने ईयू के विदेश मंत्रियों को लिखे एक पत्र में कहा है कि निस्संदेह ऐसी टकराव की स्थिति से ईरान और ईयू के आपसी रिश्ते बुरी तरह प्रभावित हो सकते हैं। ईयू के इस फैसले से ईरान के बजाए उसे ही नुकसान होगा जैसा कि पहले भी कई बार साबित हो चुका है।

मोत्तकी ने कहा कि ईरान मध्यपूर्व और पारस की खाडी़ जैसे अहम इलाके में 27 सदस्यों वाले ईयू के लिए अहम रणनीतिक साझीदार बन सकता है लेकिन ईयू के इस फैसले से यह संभावना समाप्त हो जाएगी।

उल्लेखनीय है कि ईयू ने ईरान के विवादास्पद परमाणु कार्यक्रम को हतोत्साहित करने के लिए उसके खिलाफ और कठोर प्रतिबंध लगाने का पिछले सप्ताह फैसला किया था। इसमें ईरान में तेल और गैस के क्षेत्र में निवेश को बंद करना और उसकी तेल तथा गैस शोधन की क्षमताओं को प्रभावित करना शामिल है।

अमेरिका सहित पश्चिमी ताकतों का दावा है कि ईरान गुपचुप तरीके से परमाणु हथियार विकसित कर रहा है जबकि तेहरान का तर्क है कि उसका परमाणु कार्यक्रम शांतिपूर्ण उद्देश्यों के लिए है।

मोत्तकी ने कहा कि हमें पूरा विश्वास है कि ईयू अमेरिका के दबाव में आकर ऐसा गलत कदम नहीं उठाएगा क्योंकि इससे दुनिया के मुक्त विचारों वाले देशों के सामने उसका सिर हमेशा के लिए शर्म से झुक जाएगा।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:प्रतिबंध पर ईरान की यूरोपीय संघ को धमकी