DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

भाजपा ने बढ़ाया दोस्ती का हाथ

झारखंड की राजनीति में जब-ाब झामुमो और कांग्रेस के बीच दूरी बढ़ने का संकेत मिलता है, भाजपा-झामुमो के करीब दिखने लगती है। सरकार बनाने में सहयोग नहीं करने से झामुमो कांग्रेस से नाराज है। इस नाराजगी को देखते हुए भाजपा ने दोस्ती का हाथ बढ़ा दिया है। हालांकि इस संबंध में झामुमो ने कोई पहल नहीं की है और न ही कोई प्रस्ताव दिया है। लेकिन झामुमो विधायक दल के सचेतक मथुरा महतो का कहना है कि इन सार मुद्दों पर सेंट्रल कमेटी की पांच फरवरी को होनेवाली बैठक में बात होगी। अभी कोई निर्णय नहीं लिया गया है।ड्ढr भाजपा के वरिष्ठ नेता सह नेता प्रतिपक्ष अजरुन मुंडा ने बुधवार को झामुमो अध्यक्ष शिबू सोरन को भाजपा के साथ गठबंधन के लिए पहल करने की सलाह देकर राजनीतिक क्षेत्र में कई तरह के कयासों को बल दे दिया है। प्रदेश भाजपा अध्यक्ष रघुवर दास ने भी झामुमो के साथ गठबंधन के सवाल पर कहा है कि राजनीति में उनकी पार्टी किसी को भी अछूत नहीं मानती। वैसे भाजपा के साथ किसी दल का समझौता राष्ट्रीय स्तर पर ही होगा और इसका फैसला केंद्रीय नेतृत्व करगा। उन्होंने यह भी कहा कि झामुमो की ओर से अगर कोई प्रस्ताव आता है, तो पार्टी गंभीरता से इसका संज्ञान में लेगी।ड्ढr वहीं, अजरुन मुंडा का कहना है कि शिबू सोरन झारखंड आंदोलन को मुकाम तक पहुंचानेवाले नेताओं में हैं। पर आज गुरुाी को यूपीए के लोग अपमानित कर रहे हैं, उन्हें धोखा दे रहे हैं। गुरुाी ने वेसे लोगों से तालमेल कर लिया है, जो शुरू से ही अलग झारखंड के विरोधी रहे हैं। अपनी लाश पर झारखंड बनने की बात करते रहे हैं। इस परिवेश में उन्हें सोचना चाहिए कि उनका कौन दोस्त और कौन दुश्मन है। जनजातीय समाज की भलाई के उद्देश्य से शिबू को भाजपा के साथ गठबंधन की पहल करनी चाहिए।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: भाजपा ने बढ़ाया दोस्ती का हाथ