DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

बीते जमाने की बात बन जाएगा 50 पैसे का सिक्का

पचास पैसे का सिक्का कानूनी रूप से अभी भी वैध है, लेकिन जिस तरह इसे कोई लेने को तैयार नहीं होता, उसे देखते हुए ऐसा लगता है कि यह जल्द ही बीते जमाने की बात बनकर रह जाएगा।

छोटे दुकानदारों से लेकर ऑटो चालक, बस कंडक्टर, रिटेल स्टोर और ग्राहक सभी 50 पैसे के सिक्के को लेने से इंकार करते हैं। लेकिन यदि नियमों की बात करें, तो ऐसा लगता है कि वह अनजाने में या फिर अपनी सुविधा के लिए ऐसा कर रहे हैं।

ये लोग 50 पैसे के सिक्के को स्वीकार नहीं करने के लिए कई कारण बताते हैं। सुपर बाजार में कन्फेक्शरी दुकानदार हरमिंदर कौर कहती हैं कि सरकार को यह सूचना सार्वजनिक रूप से जारी करनी चाहिए कि ये सिक्के अभी बंद नहीं हुए हैं। उसके बाद ही दुकानदार और ग्राहक इन सिक्कों को लेना शुरू करेंगे।

यही नहीं इंटरनेट पर भी 50 पैसे के सिक्के का विरोध करने वाली ऑनलाइन कम्युनिटी नो 50 पैसा प्लीज गैंग बन चुकी है। हाल में कुछ युवा लोगों ने फेसबुक पर एक कम्युनिटी शुरू की है जिसका शीर्षक जब कोई मुझे 50 पैसे का सिक्का देता है, तो मुझे बुरा लगता है रखा गया है।

कुछ लोगों का कहना है कि 50 पैसे के सिक्के का अब कोई मोल नहीं रह गया है, लोग अब ज्यादा पैसे देने से कतराते नहीं हैं। इस मामले में उनका तर्क ठीक भी नजर आता है, क्योंकि महंगाई के इस दौर में 50 पैसे में सिर्फ बच्चों की कुछ टॉफियों के अलावा कुछ नहीं खरीदा जा सकता है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:बीते जमाने की बात बन जाएगा 50 पैसे का सिक्का