अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

जंगल में लगी आग में षड्यंत्र का संदेह

द. आस्ट्रेलिया में मेलबर्न के नजदीक जंगलों में लगी भयंकर आग के पीछे षड्यंत्र की आशंका जताई गई है। आग पर सोमवार को कुछ हद तक काबू पा लिया गया लेकिन इसमें मरने वालों की संख्या बढ॥कर 130 हो गई है। पुलिस का मानना है कि देश के दूसरे सबसे बड़े शहर मेलबर्न के नजदीक कई गांवों का नामोनिशान मिटा देने वाली आग को किसी ने जानबूझकर लगाया था। आस्ट्रेलिया के प्रधानमंत्री केविन रूड ने भी इस घटना के पीछे षड्यंत्र का इशारा करते हुए स्थानीय टेलीविजन चैनल से कहा, ‘इस घटना के लिए नरसंहार के अलावा और किसी शब्द का इस्तेमाल नहीं किया जा सकता। मृतकों की संख्या स्तब्ध कर देने वाली है और मुझे आशंका है कि यह अभी और बढ़ सकती है।’ आग से सबसे अधिक प्रभावित किंगलेक के एक अन्य व्यक्ित ने कहा, ‘सब कुछ खत्म हो गया है। इस आग ने कई जिंदगियां और कई मकानों को लील लिया है।’ मेलबर्न के उत्तर में स्थित कई शहरों में शनिवार रात लगी इस आग ने घनी आबादी वाले इलाके तथा कृषि भूमि को अपनी चपेट में ले लिया है। आग के कारण 750 से अधिक मकान नष्ट हो गए तथा इसमें गंभीर रूप से झुलसे 78 लोग अस्पतालों में भर्ती हैं। इनमें से कई 30 प्रतिशत से अधिक जले हुए हैं। विक्टोरिया और न्यू साउथ वेल्स में कई स्थानों पर लगी आग पर काबू पाने के लिए हजारों दमकलकर्मी दिनरात जुटे हुए हैं। इसे देश के इतिहास में अब तक सबसे बडा दावानल माना जा रहा है। इससे पहले 1में देश में भीषण दावानल में 75 लोग मारे गए थे।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: जंगल में लगी आग में षड्यंत्र का संदेह