अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

बाइकर्स गैंग के पांच शातिर लुटेर गिरफ्तार

रईसजादों के बाइकर्स गैंग के पांच लुटेरों को शास्त्रीनगर थाने की पुलिस ने रविवार की देर रात रंगेहाथ धर दबोचा। इनमें शौकिया अपराध की दुनिया में कूदा ‘मास्टर माइंड’ सरगना मो. नौशाद विधान सभा के प्रशासी पदाधिकारी मुमताजुल हक का बेटा निकला जबकि मनमीत सिंह उर्फ ऋषि सरदार कपड़ा व्यवसायी अमरजीत सिंह का पुत्र है। अन्य गिरफ्तार आरोपितों में श्यामजी कहार, अशोक कहार और राजीव उर्फ बिल्लू शामिल हैं। एक अन्य रामजी कहार की तलाश जारी है। श्यामजी, अशोक और रामजी तीनों भाई हैं। लुटेरों के पास से राजीवनगर व शास्त्रीनगर इलाके से लूटी गई दो मोटरसाइकिलें, एक देसी पिस्तौल, 5 कारतूस और 8 मोबाइल बरामद किये गये हैं। शुक्रवार की देर रात थानाध्यक्ष कामोद प्रसाद ने दल-बल के साथ शेखपुरा में आईजीआईएमएस के समीप बगीचा इलाके उस समय घेराबंदी करके लुटेरों को पकड़ा जब वे वहां लूटपाट के इरादे से एकत्र हुए थे। शहर के विभिन्न इलाकों में ताबड़तोड़ लूटपाट कर इस गिरोह ने पुलिस की नींद उड़ा रखी थी। थानाध्यक्ष ने बताया कि पिछले 20 जनवरी को जेल से निकलने के बाद नौशाद ने गिरोह को संगठित कर 10 से अधिक लूट की घटनाओं को अंजाम दिया है। एक मोटरसाइकिल या स्कूटर पर सवार होकर गिरोह के तीन सदस्य गर्दनीबाग ठिकाने से निकलते और विभिन्न रास्तों पर ओवरटेक करके तीन-चार लोगों को लूट कर भूमिगत हो जाते थे। चार दिन पहले शास्त्रीनगर थाना क्षेत्र में एक ही रात कार सवार डॉक्टर, हवलदार व एक पंडितजी को लूटने के बाद अपराधियों ने राजीवनगर में भी लूटपाट की थी। थानाध्यक्ष के मुताबिक नौशाद 15 संगीन मामलों में जबकि अन्य लुटेर भी कई मामलों में आरोपित और पहले भी जेल जा चुके हैं। एक आरोपित श्यामजी को एक प्राइवेट नर्सिग होम से पुलिस ने अपनी गिरफ्त में लिया जहां वह स्कूटर दुर्घटना में चोट लगने के कारण भर्ती था। उसे कैथरटर भी लगा था। हालांकि पुलिस हिरासत में इलाज के बाद पुलिस ने उसे ठीक-ठाक और बेवजह कैथरटर लगाने की बात कही।ं

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: बाइकर्स गैंग के पांच शातिर लुटेर गिरफ्तार