अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

भागलपुर में पुलिस से भिड़ीं महिलाएं

परबत्ती में मंगलवार को अतिक्रमण हटाने गई पुलिस और लोगों के बीच झड़प में एक महिला घायल हो गई। इससे गुस्साई महिलाओं ने एसडीओ पर झाड़ू, डंडा, बर्तन चलाया। वे वहां से जान बचाकर भागे। लोगों ने डीएसपी, सीओ और पुलिस बल को खदेड़ दिया। तीन घंटे तक परबत्ती रणक्षेत्र बना रहा। महिला को बेहोशी की हालत में मायागंज अस्पताल में भर्ती कराया गया है।ड्ढr ड्ढr सीओ मनोज कुमार और डीएसपी अली अंसारी बड़ी संख्या में पुलिस बल और वज्रवाहन के साथ दिन में परबत्ती स्थित उपेन्द्र यादव और रामानन्द यादव का घर तोड़ने पहुंचे। सीओ का कहना था कि दोनों घर कब्रिस्तान की जमीन पर बने हैं। दंगा जांच आयोग ने अतिक्रमण हटाने का निर्देश दिया है। सीओ ने 5 फरवरी को नोटिस भेजकर उक्त जमीन से रवरी तक अतिक्रमण हटाने का निर्देश दिया था। लेकिन उपेन्द्र और रामानन्द का कहना था कि उन्होंने जमीन खरीदी है जिसका केवाला उनके पास है।ड्ढr ड्ढr उपेन्द्र यादव की पत्नी वीणा देवी का कहना था कि यह जमीन हमार नाम पर है जबकि नोटिस उपेन्द्र यादव के नाम से आया है। ऐसे में घर तोड़ने नहीं देंगे। इस बहस के दौरान सदर एसडीओ दिनेश सेहरा वहां पहुंचे और सीओ, डीएसपी और पुलिस जवानों के साथ उपेन्द्र के आंगन में घुसने लगे तो वीणा और उनके बच्चे उन्हें रोकने की कोशिश की। धक्का मुक्की में वीणा गिरकर बेहोश हो गईं। एसडीओ ने वीणा को गाड़ी से अस्पताल भिजवाया। इस बीच मोहल्ले में यह खबर फैल गई गई वीणा की रास्ते में मौत हो गई है। इसके बाद लोग भड़क गए। मोहल्ले की महिलाएं अपने घरों से डंडा, झाड़ू, कलछुल, छोलनी आदि लेकर निकलीं और एसडीओ पर चलाने लगीं।ड्ढr ड्ढr इसी बीच आसपास के लॉजों में रहने वाले छात्र और अन्य लोग अफसरों और पुलिस पर ईंट पत्थर चलाने लगे जिसमें कई वाहनों का शीशा चूर हो गया। इसके बाद एसडीओ वहां से भाग खड़े हुए। फिर डीएसपी, सीओ और पुलिस के जवान भी वहां से भाग गए।खड़े हुए। उग्र भीड़ में से कुछ लोग परबत्ती चौक पर भी पहुंच गए और कई दुकानों में पत्थरबाजी की। एक पान दुकान का सामान का सामान फेंक दिया। इसके बाद वहां की कई दुकानें धड़ाधड़ बंद होने लगी। तब एसपी बच्चू सिंह मीणा पुलिस बल के साथ परबत्ती चौक पर पहुंचे। लोगों को समझाया बुझाया। सदर एसडीओ ने घटना के संबंध में पूछने पर कोई भी प्रतिक्रिया देने से इन्कार किया। डीआईाी रघुनाथ प्रसाद सिंह ने कहा कि कामेश्वर यादव के लोगों ने कब्रिस्तान की जमीन का अतिक्रमण कर लिया है। कब्रिस्तान कमेटी के लोगों ने दंगा जांच आयोग को इसकी शिकायत की थी। आयोग ने जांच कर अतिक्रमण हटाने का निर्देश दिया है। दोनों घरों को हर हाल में हटाया जाएगा।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: भागलपुर में पुलिस से भिड़ीं महिलाएं