DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

वरूण गांधी पर रासुका हटना प्रदेश सरकार की पराजय

भारतीय जनता पार्टी ने एडवाइजरी बोर्ड द्वारा वरुण गांधी पर से रासुका हटाए जाने के निर्णय का स्वागत करते हुए इसे प्रदेश सरकार की पराजय बताया है। पार्टी ने कहा कि राज्य सरकार का चेहरा बेनकाब हो गया है और न्याय की जीत हुई है।ड्ढr पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष डा. रमापति राम त्रिपाठी ने शुक्रवार को यहाँ कहा कि वैधानिक और नैतिक रूप से वरुण पर रासुका गलत था। भाजपा शुरू से कहती आ रही थी कि राजनैतिक पूर्वाग्रह के चलते वरुण पर रासुका लगाया गया है। अब एडवाइजरी बोर्ड के निर्णय से सिद्ध हो गया है कि वरुण पर रासुका गलत था। इसलिए राज्य सरकार को शर्म आनी चाहिए और माफी माँगनी चाहिए। इसके पूर्व एक संवाददाता सम्मेलन में डा. त्रिपाठी ने कहा कि राज्य में अब तक हुए चौथे चरण के चुनाव के बाद कांग्रेस, सपा और बसपा ने अपनी हार स्वीकार कर ली है। कांग्रेस के महामंत्री राहुल गांधी ने अपनी हार स्वीकार करते हुए राजग के सहयोगी बिहार के मुख्यमंत्री नीतिश कुमार व अन्ना द्रमुक की नेता जयललिता की प्रशंसा करना शुरू कर दी है। कांग्रेस का दाँव उल्टा पड़ा है। भाजपा के पक्ष में हुए भारी मतदान से बौखलाई सपा ने अपना चुनावी घोषणा पत्र से अलग हटाकर बसपा सरकार की बर्खास्तगी तक अपने को सीमित कर दिया है। हार की संभावना से बौखलाई बसपा ने मतदाताओं को आंतकित करने और रुपया बांटने का काम तेज कर दिया है। सभी ढोंगी सेकुलर दलों ने जमकर अल्पसंख्यकवाद चलाया और तुष्टीकरण वोट बैंक की राजनीति की। भाजपा अध्यक्ष ने विश्वास जताया कि केंद्र में राजग की सरकार बनना तय है। भाजपा के पक्ष में एक खास वातावरण है। यूपी में भाजपा आधी सीटें जीतेगी। यही स्थिति अन्य राज्यों की है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: वरूण गांधी पर रासुका हटना प्रदेश सरकार की पराजय