DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

कुंठा में लिखी थी 'बदमाश कंपनी' :परमीत सेठी

कुंठा में लिखी थी 'बदमाश कंपनी' :परमीत सेठी

अभिनेता शाहिद कपूर अभिनीत फिल्म 'बदमाश कंपनी' के निर्देशक परमीत सेठी का कहना है कि उन्होंने इस फिल्म की पटकथा कुंठा की स्थिति में लिखी थी। हाल ही में प्रदर्शित हुई यह फिल्म चार दोस्तों की कहानी है। ये दोस्त रातों रात अमीर बनने के लिए ठगी करते हैं।

परमीत ने कहा कि उन्होंने तीन साल पहले निर्देशन का निर्णय ले लिया था। यह उनकी लिखी दूसरी पटकथा है।

उन्होंने कहा कि यशराज फिल्मस ने उनकी पहली पटकथा को भी स्वीकृति दी थी लेकिन वे उस पर फिल्म नहीं बना सके। उन्होंने डेढ़ साल तक इंतज़ार किया लेकिन फिल्म की शुरुआत न हो सकी और वह कुंठित हो गए। वह दुविधा में थे कि उन्हें निर्देशन की योजना पर कायम रहना चाहिए या अभिनय की ओर वापसी करनी चाहिए। फिर उन्होंने कुंठा में ही इस फिल्म की पटकथा लिखी।

अभिनेता से निर्देशक बने परमीत कहते हैं कि उनके पास पांच विचार थे जिनमें से दो ज़्यादा आकर्षक थे। वह इससे पहले दूसरी पटकथा लिखना चाहते थे लेकिन उसके लिए कनाडा में शोध करने की ज़रूरत थी, इसमें छह महीने का समय लगता। उनके पास न तो पैसा था और न ही समय। इसलिए उन्होंने इसे चुना, उन्हें इस शैली की फिल्में बहुत पसंद है।

नब्बे के दशक की पृष्ठभूमि पर आधारित 'बदमाश कंपनी' मुंबई के मध्यम वर्ग के चार युवा दोस्तों शाहिद, अनुष्का शर्मा, वीर दास और मीयांग चांग की कहानी है। ये चारों दोस्त एक कंपनी शुरू करते हैं। ठगी के द्वारा ग़लत चीज़ों को सही ठहराकर उनके व्यवसाय को बहुत जल्द सफलता मिल जाती है।

फिल्म की लंबाई अधिक होने के बावजूद समीक्षकों ने इसकी प्रशंसा की है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:कुंठा में लिखी थी 'बदमाश कंपनी' :परमीत सेठी