अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

आरआरडीए और नगर निगम के बीच विवाद

मामला: रातू रोड टेंपो स्टैंड की बंदोबस्ती काड्ढr ड्ढr रातू रोड टेंपो स्टैंड की बंदोबस्ती को लेकर रांची नगर निगम और आरआरडीए के बीच विवाद हो गया है। एक तरफ नगर निगम ने स्टैंड पर अपनी दावेदारी कर रही है, वहीं आरआरडीए अपनी। हालांकि नगर निगम में स्टैंड की बंदोबस्ती के लिए टेंडर निकालने का निर्णय लिया है। टेंडर निकालने के लिए मुख्य कार्यपालक पदाधिकारी के पास संचिका भेजी गयी है। बताया गया कि एक दो दिन के भीतर टेंडर निकाला जायेगा। इसी बीच आरआरडीए ने उसी स्टैंड का टेंडर निकाल दिया है। आरआरडीए ने लगभग छह लाख रुपये बंदोबस्ती की दर निर्धारित की है। इस संबंध में नगर निगम के बाजार पर्यवेक्षक अवध बिहारी तिवारी के अनुसार शहर के हर स्थान पर स्टैंड के लिए नगर निगम द्वारा ठेका आवंटित किया जाता है। पिछले दो साल से निगम ही इस पड़ाव की बंदोबस्ती कर रहा है। बावजूद आरआरडीए द्वारा निगम को बिना सूचना दिये ही उसी स्टैंड का टेंडर आवंटित करना बिल्कूल गतल है। नागाबाबा खटाल समेत कई जगहों पर बाजार-हाट निगम की जमीन पर लगते हैं। जिसकी बंदोबस्ती आरआरडीए द्वारा की जाती है। अगर रातू रोड टेंपो स्टैंड का टेंडर कैंसिल नहीं किया गया तो ऐसी स्थिति में उन सभी जगहों टेंडर निकाला जायेगा, जहां निगम की जमीन पर आरआरडीए द्वारा बंदोबस्ती की जाती है।ड्ढr

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: आरआरडीए और नगर निगम के बीच विवाद