DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

अभिव्यक्ति की स्वतंत्रता कम कर रहे चीन-ईरानः ओबामा

अभिव्यक्ति की स्वतंत्रता कम कर रहे चीन-ईरानः ओबामा

अमेरिकी राष्ट्रपति बराक ओबामा ने चीन और ईरान जैसे देशों पर यह आरोप लगाया है कि वे इंटरनेट और मोबाइल फोन जैसे संचार के माध्यमों पर पूर्ण पहुंच को सीमित कर अभिव्यक्ति की स्वतंत्रता को कम कर रहे हैं।

ओबामा ने सोमवार को विश्व प्रेस स्वतंत्रता दिवस के मौके पर अपने बयान में कहा कि पिछला साल दुनियाभर में प्रेस की आजादी के लिए एक बुरा साल रहा है। उन्होंने कहा कि ऐसे में जब लोग इंटरनेट, मोबाइल फोन और अन्य माध्यमों के जरिए पहले से कहीं अधिक सूचना पा रहे हैं, चीन, इथोपिया, ईरान और वेनेजुएला ने इन प्रौद्योगीकियों तक पूरी तरह से पहुंच और इनके इस्तेमाल पर रोक लगा रखी है।

अमेरिकी राष्ट्रपति ने कहा कि हालिया इतिहास में पिछले साल अपने कार्यों के लिए कहीं अधिक संख्या में मीडियाकर्मी मारे गये। उन्होंने बताया कि मागुइनदानों के फिलीपीन प्रांत में चुनावी हिंसा में 30 से अधिक पत्रकारों की मौत हो गई, यह इतिहास में मीडियाकर्मियों के लिए सबसे वीभत्स घटना है। इसके अलावा रूस, सोमालिया, मेक्सिको और होंडुरास में भी पत्रकारों की हत्या हुई। ओबामा ने कहा कि ईरान में किसी अन्य देश की तुलना में अधिक संख्या में पत्रकार हिरासत में रखे गये हैं।

अमेरिकी राष्ट्रपति ने कहा कि विश्व प्रेस स्वतंत्रता दिवस (तीन मई) सत्ता के दुरूपयोग, भ्रष्टाचार का पता लगाने और प्रमुख मुद्दों के बारे में नागरिकों को जानकारियां देने की चुनौतियों के क्षेत्र में मीडिया द्वारा निभाई जा रही अहम भूमिका को बयां करता है।

उन्होंने कहा, बेलारूस, बर्मा, चीन, क्यूबा, उत्तर कोरिया, ट्यूनिशिया, उजबेकिस्तान और वेनेजुएला में उन पत्रकारों को जेल में डाल दिया गया है, जिन्होंने सरकार के नेताओं और उनकी नीतियों की आलोचना करते हुए लेख लिखे थे।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:अभिव्यक्ति की स्वतंत्रता कम कर रहे चीन-ईरानः ओबामा