अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

आतंकवादी भारतीय अर्थव्यवस्था पर चोट करना चाहते हैं: प्रणव मुखर्जी

विदेश मंत्री प्रणव मुखर्जी ने कहा है कि मुंबई जसी आतंकी कारवाई से यह साबित हो गया है कि आतंकवादी व्यापारिक केन्द्रों और देशी-विदेशी वाणिज्यिक प्रतिनिधियों को निशाना बनाकर भारतीय अर्थव्यवस्था पर चोट करना चाहते हैं। एसे में न केवल नागरिकों बल्कि व्यापार जगत और सुरक्षा एजेंसियों को मिलकर इस खतर से मुकाबला करना होगा। फिक्की के 81 वें वार्षिक आमसभा का गुरुवार को उद्घाटन करने के बाद विदेश और वित्त मंत्री प्रणव मुखर्जी ने कहा कि मुंबई आतंकी हमले के बाद केन्द्र सरकार ने कई कदम उठाए हैं जिनमें राष्ट्रीय जांच एजेंसी का गठन, आतंकी कानूनों में बदलाव और राष्ट्रीय सुरक्षा एजेंसी के क्षेत्रीय केन्द्रों की स्थापना शामिल हैं। उन्होंने कहा कि सरकार पुलिस तंत्र में व्यापक सुधार लाने पर गंभीरता से विचार कर रही है। सत्यम मुद्देको उन्होंने एक एसा अकेला मामला बताया जिसका बुरा असर 60 अरब डॉलर के इस भारतीय आईटीक्षेत्र पर नहीं पड़ेगा। प्रणव मुखर्जी ने वैज्ञानिकों और अनुसंधानकर्ताओं को फिक्की के वार्षिक पुरस्कार दिए और रिलायंस उद्योग के हाीरा तेल गैस संयंत्र को उत्कृष्टता पुरस्कार से सम्मानित किया।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: अर्थव्यवस्था पर चोट करना चाहते हैं आतंकी : प्रणव