DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

बैंकों ने बड़ा दुख दिया: अमिताभ बच्चन

बैंकों ने बड़ा दुख दिया: अमिताभ बच्चन

फिल्मी पर्दे पर अच्छे-अच्छे खलनायकों के दांत खट्टे करने वाले महानायक अमिताभ बच्चन निजी जीवन में बैंक और उसके अधिकारियों से काफी परेशान रहे हैं।

अमिताभ ने अपने ब्लॉग में लिखा कि मेरे मित्र सुधीर ने ग्रिंडले बैंक में पहली बार मेरा बचत खाता खुलावाया था। उस समय मुझे अपने खाते में 400 रुपए जमा करके काफी गर्व की अनुभूति हो रही थी। मैंने इस पैसे को काफी उत्साह के साथ बनाए रखा क्योंकि ये वे दिन थे जब मैं मुंबई के फिल्म उद्योग में जाने की तैयारी कर रहा था।

बिग बी ने कहा कि फिल्म उद्योग में अपने संघर्ष के दिनों में जब मेरे पास नौकरी नहीं थी और खाने के लिए पैसा भी नहीं बचा था, उस समय अचानक मुझे अपने कोलकाता के बैंक खाते में जमा धन की याद आई। मैं इस धन का इस्तेमाल अगले कुछ दिनों तक अपने भोजन के लिए कर सकता था।

उन्होंने कहा कि मैंने बैंक की मुंबई स्थित शाखा का कई बार दौरा कर उनसे पैसे को कोलकाता से मुंबई स्थानांतरित करने का अनुरोध किया ताकि मैं उसका इस्तेमाल कर सकूं। उन लोगों ने इस प्रक्रिया को लंबे समय तक टाले रखा और कई बार याद दिलाने के बाद काम नहीं होने पर मैं बैंक के प्रबंधक के पास गया।

अमिताभ ने, प्रबंधक ने बड़ी विनम्रता के साथ मुक्षसे कहा कि मेरा बैलेंस 400 रूपये नहीं बल्कि पांच रूपये तथा 48 पैसे हैं और वह भी स्थानांतरण फीस के रूप में कट गये अर्थात बैंक में अब उनका एक भी रूपया जमा नहीं है।

महानायक ने कहा कि मेरे जीवन में कई बार शर्मिदंगी भरे दिन आए लेकिन उस बैंक से खाली हाथ लौट जाना मैं आज तक भूल नहीं पाया। मेरे अंदर इतना साहस नहीं हुआ कि मैं बैंक के उन कर्मचारियों से आखें मिला सकूं जो मुझे घूर रहे थे। मुझे उस समय अपने ऊपर, अपनी स्थिति पर अत्यधिक शर्म आई थी।

अमिताभ ने कहा कि इस घटना के बाद उनके जीवन में काफी बदलाव आया। अच्छे समय में भी बैंक ने उनका पीछा नहीं छोड़ा। उन्होंने कहा कि मेरी कंपनी एबी कार्प के गठन के दौरान बैंक तथा उसके अधिकारियों ने उनके साथ लंबे लंबे वादे किए। लेकिन जब कंपनी दिवालिया हो गई और मैं भी इसकी तरफ बढ़ने लगा तो इन्हीं बैंक वालों ने मेरी संपत्ति पर कब्जा कर लिया।

बिग बी ने आरोप लगाया कि बैंक के कुछ अधिकारियों ने उधार चुक्ता नहीं करने पर गालियां दी, धमकी दी और अदालत में मेरे खिलाफ मुकदमा दायर कर दिया। मैं बैंक के उन कर्मचारियों, अधिकारियों और निदेशकों को नहीं भूल सकता जिन्होंने मुझे प्रताड़ित किया।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:बैंकों ने बड़ा दुख दिया: अमिताभ बच्चन