DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

जुटें चुनाव में

राज्य में सरकार बनाने की कवायद जस की तस है। शिबू के दिल्ली में दो दिन हो गये, लेकिन बात आगे नहीं बढ़ी है। गुरुाी की पहल पर दिल्ली दरबार ने अब तक नोटिस नहीं लिया। गुरुवार को संसद में गुरुाी की राजद सुप्रीमो लालू प्रसाद से मुलाकात तो हुई, पर उन्होंने कोई दिलचस्पी नहीं दिखायी। सोनिया से भी दुआ-सलाम तो हुई, लेकिन बातचीत का मौका और अलग से मिलने का समय नहीं मिल पाया।ड्ढr शिबू से बातचीत के बाद पार्टी के सचेतक मथुरा महतो ने बताया कि गुरुाी ने चुनाव तैयारी में भिड़ने को कहा है। रांची में जुटे विधायक क्षेत्र में लौट रहे हैं। आगे क्या होगा पूछने पर महतो ने कहा कि शिबू के लौटने का इंतजार है। पार्टी की बैठक में ही आगे की रणनीति होगी। उधर, दिल्ली में डेरा डाले सुधीर महतो ने कहा-सरकार बनने की उम्मीद खत्म नहीं हुई है। महतो के मुताबिक जल्दी ही शीर्ष नेताओं से मुलाकात होगी। लालू से गुरुाी की मुलाकात हुई है। सूत्रों के मुताबिक सरकार बनाने की इस कवायद में दिल्ली दरबार ने लगभग मूड बना लिया है कि झरखंड में राष्ट्रपति शासन ही रहने दिया जाये। शिबू से मुलाकात के बाद भी लालू का रुख समझा जाने लगा है। कांग्रेस का भी मानना है बातचीत होने पर गुरुाी को समझाया जायेगा। आगे झामुमो की मर्जी।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: जुटें चुनाव में