परीक्षा में सख्ती पर हंगामा - परीक्षा में सख्ती पर हंगामा DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

परीक्षा में सख्ती पर हंगामा

मगध विश्वविद्यालय के विधि स्नातक की परीक्षा शुरू होने के पहले ही दिन शुक्रवार को छात्रों ने जबरदस्त हंगामा मचाया। वजह रही, एएन कॉलेज केंद्र पर परीक्षा के दौरान सख्ती। परीक्षा केंद्र बदलने की मांग को लेकर परीक्षार्थियों ने कॉलेज गेट पर धरना भी दिया। हालांकि कॉलेज प्रशासन और पुलिस की सक्रियता से परीक्षा में बाधा नहीं पड़ी। उधर, सख्ती और पुलिस के पुख्ता इंतजाम के चलते 18 छात्रों ने परीक्षा में भाग नहीं लिया।ड्ढr ड्ढr एएन कॉलेज केंद्र पर शुक्रवार से कॉलेज ऑफ कॉमर्स, आरपीएस लॉ कॉलेज, बिहार इंस्टीटय़ूट ऑफ लॉ और नालंदा विधि महाविद्यालय के विधि स्नातक की परीक्षा शुरू हुई। प्रथम पाली में लॉ प्रोफेशनल पार्ट वन की परीक्षा थी। परीक्षा के दौरान खूब सख्ती बरती गई। छात्रों ने किसी तरह परीक्षा दी और जब वे बाहर निकले तो पता चला कि 18 छात्रों को परीक्षा से निष्कासित कर दिया है। इसके बाद दूसरी पाली में परीक्षा देने वाले स्नातक द्वितीय वर्ष के परीक्षार्थी भड़क उठे और उन्होंने प्रथम वर्ष के छात्रों के साथ मिलकर हंगामा मचाना शुरू कर दिया। बाद में प्राचार्य ने छात्रों को बताया कि किसी भी छात्र को निष्कासित नहीं किया गया है। इसके बाद भी छात्र नहीं माने और हंगामा मचाते रहे। हंगामे के चलते वज्रवाहन भी बुला लिया गया।ड्ढr ड्ढr छात्रों का कहना था कि जनवरी प्रथम सप्ताह तक विधि स्नातक में नामांकन हुआ है। पिछले साल की परीक्षा का परिणाम भी दिसंबर में ही घोषित हुआ है। कम समय मिलने के कारण तैयारी पूरी नहीं हो सकी है और इतनी कड़ाई हो रही है, फिर वे परीक्षा कैसे देंगे? उनका यह भी कहना था कि यहां परीक्षा ठीक से नहीं ली जा रही है। प्राचार्य डा. हरिद्वार सिंह ने बताया कि द्वितीय पाली की परीक्षा शुरू होने से पहले छात्रों ने हंगामा मचाया था, लेकिन उन्हें शांत करा दिया गया। श्रीकृष्णापुरी थानाध्यक्ष अनोज कुमार ने बताया कि हंगामा मचाते छात्रों को शांत कराकर उन्हें परीक्षा में शामिल कराया।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: परीक्षा में सख्ती पर हंगामा