अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

उन्नीस वर्ष बाद तीन महिला सांसद

राजस्थान में वर्ष 1में पहली बार तीन महिलाआें ने सांसद बनने का गौरव हासिल किया था। इस बार फिर तीन महिलाएं सांसद चुनी गई है। तीनों सांसद कांग्रेस की है। लोकसभा चुनाव परिणाम के मुताबिक इस बार चित्तौड़गढ़ से डा. गिरिजा व्यास, जोधपुर से चन्द्रेश कुमारी तथा नागौर से योति मिर्धा चुनाव में सफल रही है। डा.व्यास ने उदयपुर संसदीय क्षेत्र सुरक्षित होने के कारण इस बार चित्तौड़गढ़ से चुनाव लड़ा तथा भाजपा के सांसद श्रीचंद कृपलानी को 72778 मतों से हराया। गिरिजा व्यास वर्ष 1और 1में भी सांसद रह चुकी है। जोधपुर से कांग्रेस की टिकट पर चन्द्रेश कुमारी ने भाजपा के दो बार सांसद रहे जसवंत सिंह को मतों से हराया। वह हिमाचल सरकार में भी मंत्री रह चुकी है तथा आठवीं लोकसभा में कांगडा से सांसद थी। नागौर से पहली बार कांग्रेस के टिकट पर चुनाव मैदान में उतरी योति मिर्धा ने भाजपा की बिन्दू चौधरी को एक लाख 55 हजार 137 मतों से हराया। कांग्रेस ने पांच तथा भारतीय जनता पार्टी ने तीन महिलाआें को चुनाव मैदान में उतारा था। इनमें किरण माहेश्वरी सहित भाजपा की तीनों महिला उम्मीदवार चुनाव हार गई जबकि कांग्रेस की जालौर से श्रीमती संध्या चौधरी तथा झालावाड़ से उर्मिला जैन भी सफल नही हो पाई। वर्ष 1में भी ऐसा मौका था

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: उन्नीस वर्ष बाद तीन महिला सांसद