DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

घेराव के बहाने दिखायेंगे ताकत

विधानसभा भंग करने की मांग को लेकर झारखंड विकास मोरचा के हाारों कार्यकर्ता 18 फरवरी को राजभवन घेरंगे। जब तक विधानसभा भंग नहीं होगी, तब तक घेरा डालो- डेरा डालो कार्यक्रम जारी रहेगा। इसकी तैयारी पूरी की जा चुकी है। 17 फरवरी से ही विभिन्न जिलों से कार्यकर्ताओं का आना शुरू हो जायेगा। इनके ठहरने के लिए जगन्नाथपुर मंदिर के निकट, शहीद मैदान में, दीपाटोली जुमार नदी के निकट और आइआइसीएम के पास व्यवस्था की गयी है। झाविमो का आंदोलन शांतिपूर्ण होगा।ड्ढr झाविमो सुप्रीमो बाबूलाल मरांडी ने 16 फरवरी को प्रेस से बातचीत में बताया कि कार्यकर्ताओं को निर्देश दिया गया है कि पुलिस-प्रशासन के लोग जहां रोकें, वहीं डेरा डाल दें। स्कूल प्रबंधन और अभिभावकों से भी आंदोलन में साथ देने की अपील की गयी। कहा कि प्रदीप यादव ने विधायक पद से इस्तीफा सौंप कर अन्य विधायकों को राह दिखायी है।ड्ढr मरांडी ने कहा कि राज्य में सभी प्रकार के प्रयोग किये जा चुके हैं। 40 साल से झारखंड का सपना देखने वाले को भी बागडोर थमायी गयी, लेकिन सभी ने निराश ही किया। अब दिल्ली से झारखंड में शासन किया जा रहा है। यह जनता का घोर अपमान है। प्रेस से बातचीत में प्रदीप यादव, थियोडोर किड़ो, डॉ सबा अहमद, विजय साहू उनके साथ थे।ड्ढr राजभवन की फिर घेराबंदीड्ढr रांची। जिला प्रशासन द्वारा राजभवन की एक बार फिर घेराबंदी की जा रही है। झाविमो के प्रस्तावित कार्यक्रम को देखते हुए राजभवन के चारों ओर बैरिकेडिंग की जा रही है। भाजपा के राजभवन घेराव में जहां-ाहां बैरिकेडिंग की गयी थी, उन सभी स्थानों पर पुन: बैरिकेडिंग की जा रही है। तीन दिन पहले से ही गेट नंबर तीन को बल्ली और चदरा से घेरा गया है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: घेराव के बहाने दिखायेंगे ताकत