DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

ॐझारखंड का बजट 22 हचाार करोड़ का

ेंद्रीय विदेश और अंतरमि वित्त मंत्री प्रणव मुखर्जी मंगलवार को संसद में वित्तीय वर्ष 2000 के लिए झारखंड का अंतरिम बजट पेश करंगे। यह 22 हाार करोड़ रुपये का है। इसमें से चार माह के खर्चो के लिए सात हाार 334 करोड़ रुपये का लेखानुदान पास होगा। राज्य में राष्ट्रपति शासन के कारण पहली बार झारखंड का बजट संसद से पारित होगा। इसे लेकर राज्य सरकार की उच्चस्तरीय टीम दिल्ली में है। सोमवार को दिल्ली में चालू वित्तीय वर्ष के तृतीय अनुपूरक बजट एवं अगले साल के मूल बजट को अंतिम रूप दिया गया। 22 हाार करोड़ रुपये के मूल बजट में 2518 करोड़ रुपये के घाटे का अनुमान है। अगले साल के लिए तैयार बजट में 12 हाार 456 करोड़ रुपये गैर योजना खर्च के लिए तथा रोड़ योजना व्यय के लिए है। इसमें 8200 करोड़ की राज्य योजना तथा 1344 करोड़ की केंद्रीय योजना है। अंतरिम बजट के कारण नये कर का प्रस्ताव नहीं है। 31 मार्च 200ो समाप्त हो रहे वित्तीय वर्ष के लिए 1500 करोड़ का तृतीय अनुपूरक बजट है। इसमें राज्यकर्मियों के नये वेतनमान के लिए करीब 1300 करोड़ गैर योजना मद में रखा गया है। अगले साल के लिए तैयार बजट में राजस्व आमदनी का आकलन फिर बढ़ाकर 000 करोड़ रखा गया है। राजस्व और ऋण से आय के आधार पर बजट घाटा काफी बढ़ा हुआ है। बजट के साथ मध्यावधि वित्तीय प्रबंधन की स्थिति तथा वित्तीय नीति की रिपोर्ट पेश नहीं की जायेगी। हालांकि एफआरबीएम अधिनियम में सदन में इसे रखने का प्रावधान है। सकल वित्तीय घाटा सकल घरलू उत्पाद से काफी ज्यादा है। इसे तीन प्रतिशत के भीतर ही रखने की बात अधिनियम में कही गयी है। ं

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: ॐझारखंड का बजट 22 हचाार करोड़ का