DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

ज्वाला-दीजू और रूपेश-सनावे की जोड़ी अंतिम आठ में

ज्वाला-दीजू और रूपेश-सनावे की जोड़ी अंतिम आठ में

ज्वाला गुट्टा और वी दीजू की शीर्ष वरीय जोड़ी ने मुश्किलों से उबरते हुए कड़े मुकाबले गुरुवार को शेंग मू ली और यू चिन चिएन की जोड़ी को हराकर बैडमिंटन एशिया चैम्पियनशिप के मिश्रित युगल र्क्वाटर फाइनल में प्रवेश किया जबकि रूपेश कुमार और सनावे थामस की जोड़ी ने भी पुरुष युगल में दूसरे दौर में सीधे गेमों में जीत दर्ज की।

ज्वाला और दीजू ने ताइपे की गैरवरीय जोड़ी को कड़े मुकाबले में 24-22, 21-15 से हराया जबकि रूपेश और सनावे की तीसरी वरीय जोड़ी ने पतापत चलार्दचालीम और थिटिपोंग लापोई की थाईलैंड की जोड़ी के खिलाफ 29 मिनट में 21-14, 21-15 की जीत के साथ तीसरे दौर में जगह बनाई।

ज्वाला को हालांकि महिला युगल में शिकस्त का सामना करना पड़ा जहां उनकी और अश्विनी पोनप्पा की जोड़ी पहले दौर की बाधा पार करने में विफल रही। भारतीय जोड़ी इंडोनेशिया की मेईलाना जौहारी और ग्रेसिया पोल की जोड़ी से 21-18, 15-21, 17-21 से हार गई। अपर्णा बालन और श्रुति कुरियन की जोड़ी को भी दूसरे दौर में पैन पैन और किंग टियान की चीनी जोड़ी ने 21-10, 21-12 से 24 मिनट में हराकर बाहर कर दिया जिससे महिला युगल में भारतीय चुनौती समाप्त हो गई।

मिश्रित युगल में भारतीय जोड़ी ने दमदार खेल दिखाया लेकिन ज्वाला ने कई गलतियां की जिसका खामियाजा इस जोड़ी को भुगतना पड़ा। ज्वाला और दीजू ने पहले गेम में जल्द ही 10-3 की बढ़त बना ली लेकिन इसके बाद भारतीय जोड़ी का खेल गड़बड़ा गया और विरोधी जोड़ी को वापसी का मौका मिला। ताइपे की जोड़ी ने पहले स्कोर 13-9 और फिर 19-19 से बराबर कर दिया। भारतीय जोड़ी ने इसके बाद तीन बार गेम प्वाइंट गंवाए जिससे स्कोर 22-22 से बराबर हो गया। विरोधी जोड़ी ने इसके बाद शाट नेट में मारकर ज्वाला और दीजू को गेम तोहफे में दे दिया।

दूसरे गेम में भारतीय जोड़ी 0-2 से पिछड़ी लेकिन इसके बाद उन्होंने लगातार छह अंक जीतकर वापसी की और फिर 10-5 की बढ़त बना ली। विरोधी जोड़ी ने स्कोर 14-15 किया लेकिन शीर्ष वरीय जोड़ी ने अपने अनुभव का फायदा उठाते हुए लगातार पांच अंक जीतकर जीत सुनिश्चित कर ली।

इससे पहले रूपेश और सनावे की जोड़ी ने पहले दौर में सिर्फ 18 मिनट में राईस मोहम्मद उदीन और जावेद मुस्तफा मोहम्मद की बांग्लादेश की जोड़ी को 21-10, 21-2 से हराकर भारत को अच्छी शुरुआत दिलाई थी। अपर्णा और श्रुति ने पहले दौर में आइयांग शिंग और बेइवेन झांग की सिंगापुर की जोड़ी को 21-4, 21-9 से हराया लेकिन दूसरे दौर में इस सफलता को दोहरा नहीं सकी।

अन्य मैचों में तरूण कोना और जिश्नु सान्याल की भारतीय जोड़ी को वियतनाम के एनगुएन कांग हुन और होआंग नाम एनगुएन की जोड़ी ने कड़े मुकाबले में 21-18, 12-21, 21-16 से हराया जबकि अक्ष्य दिवालकर और अरुण विष्णु की जोड़ी को हिरोकात्सु हाशीमाटो और नोर्तयासु हिराटा की जोड़ी ने सीधे गेमों में 21-18, 21-25 से हराकर बाहर का रास्ता दिखाया।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:ज्वाला-दीजू और रूपेश-सनावे की जोड़ी अंतिम आठ में